विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को किडनी ट्रांसप्लांट के बाद अस्पताल से मिली छुट्टी

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को सफल किडनी ट्रांसप्लांट के बाद सोमवार शाम अस्पताल से छुट्टी मिल गई. गत 10 दिसंबर को उनके गुर्दे का प्रत्यारोपण किया गया था, जिसके बाद उनके स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है.

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के जनसंपर्क विभाग की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, ‘गुर्दा प्रत्यारोपण के बाद सुषमा स्वराज के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हुआ है. उन्हें आज (सोमवार) अस्पताल से छुट्टी मिल गई है.’

प्राधिकारियों के अनुसार, ऑपरेशन के बाद विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम ने विदेश मंत्री के स्वास्थ्य पर पैनी नजर रखी.

विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम में एनेस्थेशिया व क्रिटिकल केयर विशेषज्ञों के अलावा ट्रांसप्लांट ऑपरेशन, नेफ्रोलॉजिस्ट, हृदय रोग विशेषज्ञ, इंडोक्राइनोलॉजिस्ट व पलमोनोलॉजिस्ट भी शामिस थे. टीम में हिसियोथेरापिस्ट, रेजिडेंट डॉक्टर और नर्सें भी थीं.

बीते 10 दिसंबर को एम्स में 50 डॉक्टरों के एक दल द्वारा सुषमा स्वराज की किडनी ट्रांसप्लांट सर्जरी की गई थी. सर्जरी में एम्स के निदेशक एम.सी. मिश्रा के नेतृत्व में एम.मिंज, वी.के.बंसल तथा प्रीत मोहिंदर सिंह जैसे वरिष्ठ डॉक्टरों ने भाग लिया था.

जानकारी मिली है कि सुषमा को जिस व्यक्ति ने किडनी दी थी, वह उनका रिश्तेदार नहीं है. तीन घंटे तक चली यह सर्जरी कार्डियो थोरेसिक एंड न्यूरो साइंसेज सेंटर में की गई थी. सुषमा (64) को बीते सात नवंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था.