उत्तराखंड में कोहरे और बर्फीली हवाओं से जीना मुहाल, ठिठुरन बढ़ी

उत्तर भारत के मैदानी इलाके कोहरे की मार से त्रस्त हैं तो उत्तराखंड में भी सर्द हवा का पहरा है. हालांकि, सूरज चमक बिखेर रहा है, लेकिन ठंडक भरी उत्तर पश्चिमी हवा धूप की गर्माहट का अहसास नहीं दे रही. मौसम विभाग की मानें तो मौसम का यही रुख फिलहाल बना रहेगा.

20 व 21 दिसंबर को हवा की गति 15 से 25 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है. इसके चलते तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट आने के साथ ही ठिठुरन और बढ़ने के आसार हैं.

बारिश की बाट जो रहे उत्तराखंड में इन दिनों सूखी ठंड पड़ रही है. हालांकि, सुबह के वक्त मैदानी इलाकों में उथला कोहरा भी पसर रहा, लेकिन यह सीमित इलाकों तक ही है. रही-सही कसर पूरी कर दे रही सर्द हवा.

मैदान और पहाड़ दोनों ही जगह सर्द हवा ने न्यूनतम पारे को कहीं सामान्य तो कहीं सामान्य से एक डिग्री नीचे ला दिया है. उधर, मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि उत्तर पश्चिमी हवा की रफ्तार बढ़ने से अब ठिठुरन में और इजाफा होगा. 20 व 21 दिसंबर को हवा की गति बढ़ने से ठिठुरन बढ़ सकती है. सूबे के मैदानी इलाकों में फिलहाल कोहरे से राहत रहेगी.