ये है उत्तराखंड का पहला क्रिकेट स्टेडियम, तस्वीरों में देखें खूबसूरती

उत्तराखंड को शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की सौगात मिल गई. करीब 2 बजे मुख्यमंत्री हरीश रावत ने राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का लोकार्पण किया. करीब 237 करोड़ रुपये की लागत से तैयार राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का शुक्रवार को लोकार्पण किया गया. करीब 23 एकड़ भूमि पर बना यह स्टेडियम ‘स्टेट ऑफ आर्ट’ के तौर पर तैयार पहला अंतराष्ट्रीय स्टेडियम है, जिसे तैयार करने में करीब तीन साल का वक्त लगा है.

साल 2012 में राज्य सरकार ने इस तरह का अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम बनाने का सपना देखा और आज वो पूरा हो गया है. 25 हजार लोगों की बैठने की क्षमता वाला यह स्टेडियम दूनघाटी की खूबसूरत वादियों में तैयार किया गया है, जिसमें चारों ओर फ्लड् लाइट्स की व्यवस्था की गई है, ताकि डे-नाइट मैच भी करवाए जा सकें.

स्टेडियम की सीटों को कुछ इस प्रकार से लगाया गया है जो कि कुमाऊंनी हस्तकला ‘एपण’ जैसी नजर आती हैं. स्टेडियम के पूर्वोत्तर के भाग को एमएस धोनी के नाम पर रखा गया है. स्टेडियम के भीतर 34 कॉरपोरेट बॉक्स के साथ ही रेस्टोरेंट एरिया भी है. स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स भी बेहतरीन ढंग से तैयार किया गया है.

पवेलियन के दक्षिण भाग में क्लब हाऊस है, जिसमें स्वीमिंग पूल, बिलियर्ड रूम, जिम, बैंक्वेट हॉल और 100 सीटों का एक ऑडिटोरियम भी है. स्टेडियम की छत टेंसिल फैब्रिक और पॉलिकॉर्बोनेट के मिश्रण से तैयार की गई है, जो देश में अपनी तरह का पहला प्रयोग है. अंतरराष्ट्रीय मानकों के हिसाब से स्डेडियम में पांच मुख्य पिच के अलावा पांच प्रैक्टिस पिच भी हैं. ये सभी पिचें वर्ल्ड क्लास क्यूरेटर दयानंद शर्मा ने तैयार की हैं.

शुक्रवार दोपहर 2 बजे सीएम हरीश रावत इस स्टेडियम का लोकापर्ण किया, जिसमें आइपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला भी मौजूद थे. इसके अलावा क्रिकेटर सुरेश रैना, प्रवीण कुमार और पीयूष चावला पहले ही देहरादून पहुंच चुके थे. उद्घाटन के बाद यूपी और उत्तराखंड की टीमों के बीच 15-15 ओवर का दोस्ताना मैच भी हुआ.