हम कालेधन-भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं और सपा-बसपा हमारे खिलाफ : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को उत्तर प्रदेश के बहराइच में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि वह देश को कालेधन से निजात दिलाने के अभियान में जुटे हैं और इसे अंजाम तक पहुंचाकर ही दम लेंगे. उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की परिवर्तन रैली को प्रधानमंत्री ने लखनऊ स्थित चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के ‘वीआईपी लाउंज’ से मोबाइल फोन के जरिए संबोधित किया.

प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर बहराइच में नहीं उतर पाया, जिसके कारण उन्हें मोबाइल फोन से सभा को संबोधित करना पड़ा. सभा स्थल पर इंतजार कर रहे लोगों को निराश न करते हुए प्रधानमंत्री ने सभा में नहीं पहुंच पाने के लिए पहले तो बहराइच की जनता से क्षमा मांगी और बाद में कहा कि वह देश को कालेधन से छुटकारा दिलाने के अभियान में जुटे हैं.

उन्होंने कहा, ‘हम देश को कालेधन से छुटकारा दिलाने के अभियान में जुटे हैं और समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ-साथ बहुजन समाज पार्टी (बसपा) हमारे इस अभियान का विरोध कर रही है.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘हम काले धन के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. संसद के कूप में चले जाना, स्पीकर के सामने हंगामा करना, उनकी (विपक्षी दलों) मंशा को प्रतिबिंबित करता है. सरकार लगातार बेईमानों के पीछे पड़ी है. बड़े-बड़े लोग पकड़े जा रहे हैं. यह सरकार गरीबों की है और गरीबों के लिए है.’

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश में व्याप्त गुंडाराज पर भी हमला बोला और कहा कि यदि उत्तर प्रदेश को आगे ले जाना है तो गुंडागर्दी खत्म करनी होगी.’

अब बेईमानों की खैर नहीं
खराब मौसम की वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के बहराइच में परिवर्तन रैली को संबोधित नहीं कर पाए. हालांकि उन्होंने लखनऊ से ही मोबाइल फोन से लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि देश ईमानदारी के रास्ते पर चलने के लिए तकलीफ सहन कर रहा है. अब बेईमानों की खैर नहीं है.

प्रधानमंत्री मोदी रविवार को बहराइच जिले में विश्वरिया के महाराजा सुहेलदेव स्थल ग्राम बिसवरिया में आयोजित परिवर्तन रैली को संबोधित करने वाले थे, लेकिन मौसम खराब होने की वजह से उनका हेलीकॉप्टर नहीं उतर पाया. रविवार सुबह से ही रैली स्थल पर लोग एकत्र थे और सुरक्षा के काफी कड़े बंदोबस्त किए गए थे.

मोदी ने बहराइच की जनता को नमस्कार करते हुए कहा, ‘समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस एक ही भाषा बोलती है. हम भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. आज देश ईमानदारी के रास्ते पर चलने के लिए इतनी तकलीफ सह रहा है.’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘जिनको जनता ने नकार दिया, वह ज्यादा बोल रहे हैं. हम कहते हैं आओ विस्तार से चर्चा करें, लेकिन नोटबंदी पर विरोधी एकजुट हो गए हैं. संसद में चर्चा के बजाय कार्यवाही में अवरोध उत्पन्न कर रहे हैं.’

मोदी ने कहा, ‘बड़े-बड़े लोग रोज पकड़े जा रहे हैं. नोटबंदी से भ्रष्टाचारियों को ज्यादा परेशानी हो रही है. बड़े-बड़े लोग कानून के शिकंजे में रोज आ रहे हैं. उप्र गुंडाराज में परिवर्तित हो गया है. हर व्यक्ति गुंडागर्दी से परेशान है. कहीं-कहीं पुलिसवाले गुंडों का स्वागत करते हैं. गुंडागर्दी के संरक्षकों को खत्म करना पड़ेगा.’