मसूरी : IMA से पास आउट होकर भारतीय सेना का हिस्सा बने 401 वीर जवान

मसूरी स्थित भारतीय सैन्य अकादमी में शनिवार को पासिंग आउट परेड में अंतिम पग भरते ही 401 नौजवान कैडेट भारतीय सेना का हिस्सा बन गए. इसके साथ ही 53 विदेशी कैडेट भी पास आउट हुए. उप सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल एनपीएस हीरा ने परेड की सलामी ली.

भारत माता तेरी कसम तेरे रक्षक बनेंगे हम, आइएमए गीत पर कदमताल करते जेंटलमैन कैडेट ड्रिल स्क्वायर पर पहुंचे तो लगा कि विशाल सागर उमड़ आया है.

सुबह 8.57 बजे मार्कर्स कॉल के साथ परेड का आगाज हुआ. एडवांस कॉल के साथ ही देश के जाबांज परेड के लिए पहुंचे. कंपनी सार्जेंट मेजर ललित उपमन्यु, मोहित सैनी, विकास, अभिषेक भारद्वाज, अभिजीत, अनिल गंगोला, प्रसून कुमार व यान राज ने ड्रिल स्क्वायर पर अपनी-अपनी जगह ली.

एडवांस कॉल के साथ ही सीना ताने देश के भावी कर्णधार असीम हौसले के साथ कदम बढ़ाते मल्ला राम गोपाल नायडू की अगुवाई में परेड के लिए पहुंचे. इसके बाद परेड कमांडर प्रत्यूष मोहंती ने ड्रिल स्क्वायर पर जगह ली.

कैडेट्स का शानदार कदमताल को दर्शक दीर्घा में बैठा हर कोई मंत्रमुग्ध नजरों से देखे जा रहा था. अंतिम पग भरते ही युवा सैन्य अधिकारियों पर आकाश से हेलीकॉप्टरों के जरिए फूलों की बारिश की गई.

लेफ्टिनेंट जनरल हीरा ने परेड की सलामी लेने के बाद ने कहा कि नव सैन्य अधिकारी परम्परागत और गैर परम्परागत चुनौतियों के लिए तैयार रहें.

उन्होंने कैडेट्स को ओवरऑल बेस्ट परफॉर्मेंस व अन्य उत्कृष्ट सम्मान से नवाजा. प्रत्यूष कुमार मोहंती को स्वॉर्ड ऑफ ऑनर प्रदान की गई. मल्ला राम गोपाल नायडू को स्वर्ण और सूयश गुप्ता को रजत पदक मिला. प्रत्यूष कुमार मोहंती को कांस्य पदक प्रदान किया गया, जबकि दीपक सिंह ने सिल्वर मेडल (टीजी-यूईएस) हासिल किया.

जार्ज प्रिंस कार्की सर्वश्रेष्ठ विदेशी कैडेट चुने गए. चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ बैनर अलामिन कंपनी को मिला. इस दौरान कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एसके सैनी डिप्टी कमान्डेंट मेजर जनरल मंदीप सिंह आदि मौजूद रहे.