भारत ने सख्त रुख अपनाया तो घबराया पाक, कहा- ‘भारत से दुश्मनी नहीं चाहते’

आतंकवाद, सीमापार से घुसपैठ और संघर्ष विराम उल्लंघन पर भारत के सख्त रुख से लगता है अब पाकिस्तान भी घबरा गया है. इस अड़ियल पड़ोसी ने अब समझौतावादी रुख अख्तियार कर लिया है.

नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने गुरुवार को कहा, ‘हम भारत के साथ दुश्मनी के माहौल में लगातार नहीं जीना चाहते हैं. दुश्मनी नहीं रखना चाहते हैं. समय आ गया है जब दोनों पड़ोसी देश यह तय करें कि उन्हें मौजूदा हालात में ही रहना है या फिर एक नई शुरुआत करनी है.’

भारत-पाकिस्तान संबंधों पर आयोजित परिचर्चा में अब्दुल बासित ने उपरोक्त टिप्पणी की. इस दौरान उन्होंने दोनों देशों के बीच निरंतर और निर्बाध द्विपक्षीय संबंधों पर जोर दिया. बासित का कहना था, ‘दोनों देशों को आपसी मतभेदों पर इस तरह से विजय हासिल करनी चाहिए, ताकि वे सहयोग के अपरिवर्तनीय मार्ग पर बगैर किसी बाधा के अग्रसर हो सकें.’

पाक उच्चायुक्त के अनुसार, ‘पाकिस्तान तो भारत के साथ व्यापक बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन भारत इस तरह की भावना नहीं दर्शा रहा है. नवाज शरीफ सरकार में धैर्य है. वह वार्ता शुरू होने के लिए इंतजार भी करने को तैयार हैं.’

बासित बोले, ‘मैं सोचता हूं कि हमने 70 वर्ष का समय बर्बाद कर दिया है। परंतु अब यह तय करने का समय आ गया है कि इस पर विचार किया जाए कि हम वास्तव में चाहते क्या हैं?