जयललिता को पड़ा हार्ट अटैक, हालत गंभीर | अस्पताल के बाहर समर्थकों का हुजूम

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता को एक अस्पताल में रविवार को दिल का दौरा पड़ गया, जिसके बाद देर रात उनकी हालत गंभीर बताई गई. जयललिता उस अस्पताल में पिछले दो महीने से भर्ती हैं.

अपोलो अस्पताल की ओर से जारी वक्तव्य में बताया गया, ‘तमिलनाडु की माननीय मुख्यमंत्री जिनका अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा है, उन्हें रविवार शाम दिल का दौरा पड़ा.’

68 वर्षीय जयललिता को हार्ट अटैक होने की खबर लगते ही चेन्नई स्थित अपोलो अस्पताल के बाहर उनकी कुशलक्षेम जानने के लिए अन्नाद्रमुक के रोते-बिलखते कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लग गया. अम्मा के लाखों समर्थकों ने उनके जल्द ठीक होने की कामना शुरू कर दी. अस्पताल को चारों ओर से बेरीकेडिंग करके घेर लिया गया है.

jaya

अपोलो अस्पताल के मुख्य संचालन अधिकारी डॉ. सुबैया विश्वनाथन ने एक वक्तव्य में कहा, ‘उनका इलाज हृदयरोग विशेषज्ञों, पल्मोनोलॉजिस्ट और गंभीर स्थिति देखभाल विशेषज्ञों समेत विशेषज्ञ डॉक्टरों का एक दल कर रहा है और स्थिति पर नजर रख रहा है.’

मध्य रात्रि के करीब अपोलो अस्पताल की संयुक्त प्रबंध निदेशक संगीता रेड्डी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘तमिलनाडु की मुख्यमंत्री की हालत गंभीर है. अस्पताल का मल्टी स्पेशिएलिटी दल ईसीएमओ समेत सारे प्रयास कर रहा है. उनके स्वस्थ होने की कामना करती हूं.’

jaya1

अपोलो अस्पताल से बयान आने के तुरंत बाद केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने तमिलनाडु के राज्यपाल विद्यासागर राव से बातचीत की और जयललिता के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की.

राव महाराष्ट्र के भी राज्यपाल हैं. वह इस बारे में जानकारी मिलने के तुरंत बाद मुंबई से चेन्नई के लिए रवाना हुए और चेन्नई पहुंचने के बाद अपोलो अस्पताल पहुंचे. मंत्री और शीर्ष पुलिस अधिकारी भी अस्पताल पहुंचे और हालात पर अनौपचारिक विचार-विमर्श किया.

अस्पताल के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. वहां 68 वर्षीय ‘अम्मा’ के हजारों समर्थक और अन्नाद्रमुक के कार्यकर्ता इस खबर को सुनने के बाद जमा हो गए.