पेट्रोल खत्म होने से गिरा ब्राज़ील के फुटबॉल खिलाड़ियों को ले जा रहा विमान, 71 की मौत

कोलंबिया के विमानन अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि ब्राजील के फुटबाल खिलाड़ियों सहित कुल 77 लोगों को ले जा रहे चार्टर्ड विमान का ईंधन दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले समाप्त हो गया था. इस दुर्घटना में 71 लोगों की मौत हो गई, जिसमें टीम के अधिकतर खिलाड़ी शामिल हैं. तीन खिलाड़ियों, एक पत्रकार और फ्लाइट स्टाफ को मलबे में से जिंदा निकाला गया लेकिन उनकी हालत गम्भीर बनी हुई है.

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, वायु सुरक्षा विशेष प्रशासनिक सिविल एयरोनॉटिक्स यूनिट के सचिव फ्रेड्डी बोनिला ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम साफ तरह से इस बात को जाहिर कर सकते हैं कि विमान में दुर्घटना से पहले ईंधन नहीं था. इसके पीछे के कारण का पता लगाने के लिए हमने जांच शुरू कर दी है.’

बोलीवियाई कंपनी लामिया के विमान ने सोमवार को उड़ान भरी थी और जोस मारिया कोरडोवा जे रियोनेग्रो हवाई अड्डे से 17 किलोमीटर पहले वह हादसे का शिकार हो गया. इसमें 71 लोगों की मौत हो गई और छह यात्री जिंदा बचे हैं.

इस दुर्घटना के पीछे ईंधन की कमी मुख्य कारण मानी जा रहा है. बोनिला ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय मानकों के तहत एक विमान में अपनी तय यात्रा पूरी करने के लिए पर्याप्त ईंधन होना चाहिए और इसके अलावा इसमें आपात लैंडिंग हेतु अतिरिक्त ईंधन भी उपलब्ध होना चाहिए.

बोनिला ने कहा कि अतिरिक्त ईंधन के कारण विमान आपात लैंडिंग के लिए करीब 30 मिनट की दूरी तय करके अपने लिए कोई अन्य हवाई अड्डा तलाश कर सकता है. उन्होंने यह भी कहा कि मेडेलिन में विमान की लैंडिंग के लिए मौसम की स्थिति अनुकूल थी.

इस बीच, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ लीगल मेडिसिन एंड फोरेंसिक साइंसेस के निदेशक कार्लोस एडुआडरे वाल्देस ने संवाददाताओं को बताया कि 59 शवों की पहचान की जा सकी है. इसमें 52 ब्राजीलियाई, पांच बोलीवियाई, एक पराग्वे का नागरिक और एक वेनेजुएला का नागरिक शामिल है.

वाल्देस ने कहा, ‘दुर्घटना में मारे गए 71 यात्रियों में से अधिकतर की मौत हड्डियों के टूटने और ऊंचाई से नीचे गिरने से होने वाले आघात के कारण हुई.’