हाजी अली दरगाह में आज से महिलाओं को मिलेगी एंट्री, चादर और फूल चढ़ाएंगी

मुंबई की हाजी अली दरगाह के अंदरूनी हिस्से में जाने पर प्रतिबंध हटने के बाद आज यहां पहली बार महिलाएं प्रवेश करेंगी. दो साल पहले भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन ने दरगाह के मुख्य हिस्से में महिलाओं के प्रवेश पर लगे प्रतिबंध को चुनौती दी थी.

24 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट दरगाह के अंदरूनी हिस्से में महिलाओं को जाने की अनुमति दी थी. भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन की सह-संस्थापक साफ़िज़ नियाज़ के मुताबिक, देशभर की करीब 80 महिलाएं आज वहां जाएंगी और चादर और फूल चढ़ाएंगी.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि था अगर दरगाह के एक पॉइंट तक पुरुषों को जाने की इजाजत है और महिलाओं को नहीं तो ये दिक्कत की बात है.

मामले की सुनवाई के दौरान दरगाह की ओर से बताया गया था कि ट्रस्ट ने प्रस्ताव पास किया है कि बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश का पालन किया जाएगा. ट्रस्ट महिलाओं को प्रवेश देगा. इसके लिए रूपरेखा भी तैयार की गई है. इस पर CJI ठाकुर ने कहा कि अगर ट्रस्ट महिलाओं को प्रवेश देने को तैयार है तो फिर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की क्या जरूरत है.