हम युद्ध नहीं चाहते, लेकिन उकसाया तो आंखें निकालकर दुश्मन के हाथ में रख देंगे : पर्रिकर

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने शनिवार को कहा कि भारत युद्ध नहीं चाहता है, लेकिन यदि उकसाया गया तो वह दुश्मन की आंखें निकाल कर उसके हाथ में डाल देगा.

गोवा के एल्डोना विधानसभा क्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए मनोहर पर्रिकर ने कहा, ‘हम लड़ने के लिए बेचैन नहीं होते, लेकिन यदि किसी ने देश पर बुरी नजर डाली तो हम उसकी आंखें निकालकर उसके हाथ में रख देंगे, हमारे पास इतनी ताकत है’. पर्रिकर ने कहा कि गोवा के लोग दुनिया को बता सकते हैं कि उन्होंने केंद्र में एक ऐसे शख्स को भेजा था, जिसने दुश्मन के गाल पर करारा तमाचा जड़ा.

तीन दिन पहले पाकिस्तान की ओर से डीजीएमओ स्तर की वार्ता के अनुरोध की तरफ इशारा करते हुए पर्रिकर ने कहा, ‘सीमा पर पिछले तीन दिनों से फायरिंग नहीं हुई है, क्योंकि यदि वे (पाकिस्तान) एक बार फायरिंग करते हैं तो हम उन पर दो बार फायरिंग करते हैं. हम जैसे को तैसा के अंदाज में जवाब दे रहे हैं. जब उन्हें यह बात समझ आ गई तो उन्होंने हमसे अनुरोध किया कि हम इसे रोक दें’.

सशस्त्र बलों के पूरी तरह तैयार होने की बात पर जोर देते हुए पर्रिकर ने कहा कि उनकी मां ने उन्हें सिखाया था कि ‘यदि तुम खरगोश के शिकार के लिए भी जाओ तो किसी बाघ को मारने के लिए तैयार रहो’.