नोटबंदी पर नीतीश के बाद अब पीएम मोदी को इस बड़े आलोचक का भी मिला समर्थन

नोटबंदी के मुद्दे पर अपने धुर विरोधी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का समर्थन मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक और बड़े आलोचक उनकी तारीफों के पुल बांध रहे हैं.

समाजवादी पार्टी के विवादित नेता अमर सिंह ने 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बंद करने के फैसले के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है. उन्होंने कहा कि यह काले धन और भ्रष्टाचार को खत्म करने का एक ‘साहसिक प्रयोग’ है और उन्हें ‘गर्व’ है कि मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं’.

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी ने नोटबंदी के मुद्दे पर मोदी को आड़े हाथ लिया है. अमर सिंह ने दावा किया कि नोटबंदी के फैसले से अमीर और गरीब के बीच की खाई कम हुई है और अब लोग टैक्स चोरी करने की बजाय कर अदा करेंगे.

राज्यसभा सदस्य ने शुक्रवार को वाराणसी में कहा कि नोटबंदी भले ही ‘उचित इंतजामों’ के बगैर लागू की गई, लेकिन इस कदम को अचानक अमल में लाने से कालेधन और बेहिसाबी नगद राशि को जमाखोरों की ओर से ‘ठिकाना’ लगाने से रोकने में मदद मिली.

amar-singh

कालाधन, भ्रष्टाचार और फर्जी मुद्रा खत्म करने के ‘साहसिक’ प्रयोग के तौर पर इस फैसले की तारीफ करते हुए अमर ने कहा, ‘एक देशवासी के तौर पर मुझे गर्व है कि हमें एक ऐसा प्रधानमंत्री मिला है जो भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के लिए समर्पित हैं.’ अमर के मुताबिक, अब कालाधन जमा रखने वालों को रातों में नींद नहीं आ रही.

उन्होंने कहा, ‘बैंकों के बाहर कतार में खड़े लोग कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री ने उन सभी को सजा दी है जिन्होंने अकूत संपत्ति जमा कर रखी थी, चाहे वे उनकी पार्टी बीजेपी के हों या कोई और हों. अमर ने कहा, ‘मैं बीजेपी का कोई प्रवक्ता नहीं बल्कि समाजवादी पार्टी का राज्यसभा सदस्य हूं, इस मुद्दे पर मेरी पार्टी की राय चाहे जो भी हो, लेकिन मैंने अपनी निजी राय जाहिर की है.’

बहरहाल, अमर ने नोटबंदी को लागू करने में ‘कुप्रबंधन’ पर अपना विरोध दर्ज कराते हुए कहा कि उन्हें लोगों को इस फैसले के कारण तकलीफ में देखकर दुख होता है. नोटबंदी के मुद्दे पर पीएम मोदी की ओर से ऐप पर कराए गए सर्वेक्षण पर सवाल उठाते हुए अमर ने कहा कि सर्वे को लेकर ‘संदेह’ हैं.