हम कालाधन-भ्रष्टाचार बंद कर रहे हैं, विपक्ष भारत बंद : पीएम मोदी

उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कुशीनगर में परिवर्तन यात्रा के नाम से चुनावी रैली को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि राज्य में लोगों को काफी दिक्कत हो रही थी. पीएम मोदी ने कहा, भ्रष्टाचार ने देश को बर्बाद कर दिया और इससे देश के बचाना है.

नोटबंदी पर पीएम मोदी ने कहा, ‘जो बड़े हैं उन्हें बड़ी तकलीफ होगी. जो लोग छोटे हैं, उन्हें छोटी-छोटी तकलीफ होगी.’ पीएम मोदी ने कहा कि जनता की भलाई के लिए ऐसा कठोर फैसला लिया गया है. इसे लागू करना भी सरल नहीं है. उन्होंने कहा 50 दिन तकलीफ होगी. अभी 20 दिन हुए हैं, अभी 30 दिन बाकी हैं और सरकार आपकी तकलीफ दूर करने का पूरा प्रयास कर रही है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि लोगों को तकनीक धीरे-धीरे अपने आप आ गई. चाहे वो मोबाइल रिचार्ज करना हो, सोशल मीडिया का प्रयोग करना हो. ऐसे ही जल्द ही कैश ट्रांसफर करना भी लोगों को आ जाएगा. पीएम ने कहा, आपकी हथेली में बैंक है. बटुए की जरूरत नहीं, मोबाइल में पैसे होते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि देश में आधे से ज्यादा लोग ऑनलाइन टिकट खरीद रहे हैं.

उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि कालाधन वालों को सफल नहीं होने देना है. वे लोग चाहते हैं कि यह मुहिम विफल हो जाए. लेकिन देशवासियों ने साथ दिया है. देश में कालाधन अब पैदा होने की हिम्मत नहीं करेगा. अब नोटों के बंडल किसी को बिस्तर के नीचे छिपाने की नौबत नहीं आएगी.

पीएम मोदी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि हम भ्रष्टाचार और कालाधन बंद करने में लगे हैं और कुछ लोग भारत बंद करने में लगे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि 70 साल से जो लूटा है, उसे निकालना है और गरीब का घर बनाना है. जो लूटा है उसे वापस लेना है, बिजली का कनेक्शन देना है, बच्चों की शिक्षा की व्यवस्था करनी है और गरीबों के इलाज की व्यवस्था करनी है.

पीएम मोदी ने कहा कि अब हम देश को लुटने नहीं देंगे. देश में कालाधन और भ्रष्टाचार का खात्मा संभव है. देश सही दिशा में आगे बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि देश ईमानदारी के महायज्ञ में कष्ट झेलकर आहूति देते देख रहा हूं. पीएम मोदी ने कहा कि देश का भविष्य उज्ज्वल है.

पीएम मोदी ने कहा कि जागरुक लोग अन्य लोगों को सिखाएं कि कैसे बिना पैसे कारोबार चलता है. पूरी दुनिया आगे निकल गई है, हम पीछे रह गए हैं. लेकिन अब भारत पीछे नहीं रहेगा.

पीएम मोदी ने कहा, राज्य पैकेज के लिए आगे आते हैं. यूपी भी आया, चीनी मिल के लोग मेरे पास आए. पैकेज मांगा. पीएम मोदी ने कहा कि चीनी मिल से किसानों के नाम मांगे, जिनका बकाया था. चीनी मिल वाले नहीं दे पाए. लेकिन सरकार ने कदम उठाया और गन्ना किसानों के खाते में सीधा पैसा देने के लिए प्रयास किया गया. बिचौलियों को बाहर करने की कोशिश की. दिल्ली की सरकार गरीबों को समर्पित है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्य के पूर्वि इलाके में अच्छे इलाज की व्यवस्था नहीं, इसलिए गोरखपुर में एम्स को बनाया जाएगा. यूरिया के मामले पर किसानों की बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि किसानों के लिए यूरिया उपलब्ध कराने की चिंता पहले किसी भी सरकार ने नहीं की. लेकिन, अब किसानों को इसकी चिंता नहीं रहती. यूरिया के लिए लाइन खत्म हो गई. हमने इस समस्या का समाधान किया. किसानों को लिए सॉयल कार्ड बनाया है. ताकि उनकी जमीन का परीक्षण किया जा सके और उसके हिसाब से किसानी की जाए.

पीएम मोदी ने कहा कि किसान कितनी भी मेहनत करे, लेकिन प्राकृतिक आपदा के मौके पर किसान कुछ नहीं कर पाता. किसान की रक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सरकार लेकर आई है. इसमें किसान को बहुत कम पैसा देना है. बाकी पैसा भारत सरकार देगी. किसान को फसल के नुकसान पर पूरा पैसा मिलेगा.

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी की यूपी में ये तीसरी रैली है. इससे पहले वे आगरा और गाज़ीपुर में भी परिवर्तन यात्रा को संबोधित कर चुके हैं. इस मौके पर कई केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के नेता भी मौजूद थे. इस दौरान प्रधानमंत्री ने पहली एयर कंडिशन्ड हमसफ़र ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाई जो गोरखपुर से दिल्ली तक चलेगी.