पुलिस की वर्दी में आए बदमाश, आतंकवादी सहित 5 कैदियों को छुड़ा ले गए

पंजाब के पटियाला में नाभा की मेक्सिमम जेल में रविवार सुबह करीब 8 बजे करीब 8-10 लोग पुलिस की वर्दी में पहुंचे। यहां पहुंचते ही इन हथियारबंद लोगों ने जेल पर हमला बोल दिया और पांच कैदियों को छुड़वाकर ले गए.

इस दौरान वहां मौजूद दो पुलिसकर्मियों ने उनका मुकाबला करने की कोशिश की तो संघर्ष में वे घायल हो गए. आंतकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू, विक्की गौंडर, गुरप्रीत सिंह, नीटू दयोल, विक्रमजीत बिक्का को छुड़ाकर ले गए।

पुलिसकर्मी हवलदार जगमीत सिंह व अवतार सिंह वहां मौजूद थे और इस संघर्ष में घायल हो गए.

हमलावार फॉर्च्यूनर व वर्ना गाड़ियों में सवार होकर आए थे. हमलावर जाते वक्त हवलदार जसविंदर सिंह की एसएलआर भी छीनकर ले गए. जेल में हमले के बाद अधिकारी जांच के लिए मौके पर पहुंचे और जेल का गेट बंदकर कैदियों की गिनती की गई.

हवलदार जगमीत सिंह के मुंह पर चाकू से वार किया गया है. एसएसपी गुरमीत सिंह चौहान ने जेल पहुंचकर मामले की जांच की हैं. इस घटना के बाद समूचे पंजाब में अलर्ट घोषित कर दिया गया है. घटना के बाद डीजीपी जेल भी नाभा पहुंचे.

नाभा जेल से छुड़ाया गया आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू खालिस्तान लिब्ररेशन फोर्स (केएलएफ) से जुड़ा है. कई आतंकी वारदातों में शामिल होने के आरोपी 47 वर्षीय मिंटू को नवंबर 2014 में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था. पुलिस की वर्दी पहने 10 हथियारबंद लोग नाभा जेल में घुसे और करीब 100 राउंड गोलियां चलाईं.