नोटबंदी के बाद अब घरों पर रखे सोने पर भी लग सकती है पाबंदी!

कालेधन के खिलाफ पीएम मोदी का सर्जिकल स्ट्राइक जारी है. करेंसी पर लगाम लगाने के बाद सरकार का अगला निशाना सोने पर है. शुक्रवार को आई एक रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया गया है. हालांकि वित्त मंत्रालय के प्रवक्ता ने इस पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है. अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, सरकार सोने खरीदने और रखने वाले पर कड़ी निगरानी कर रख रही है.

नोटबंदी के बाद ज्वेलर्स में डर फैल गया था कि सरकार कालेधन के खिलाफ लड़ाई में सोने के आयात पर प्रतिबंध लगा सकती है. जिसके कारण सोने की खरीद बढ़ गई और भारत में गोल्ड प्रीमियम पिछले हफ्ते दो साल के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गया.

भारत दुनिया में सोने का दूसरा सबसे बड़ा खरीदार है. अनुमान है कि सोने की 1,000 टन वार्षिक मांग का एक-तिहाई भुगतान काले धन में किया जाता है. अधिकारियों का कहना है कि नोटबंदी के निर्णय से कैश में होने वाली सोने की तस्करी पर लगाम लगी है.

नोटबंदी का विरोध कर रहे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों पर पलटवार करते हुए शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कुछ लोग आलोचना कर रहे हैं कि नोटबंदी के लिए सरकार ने पर्याप्त तैयारी नहीं की. मुझे लगता है कि यह कोई मुद्दा नहीं कि सरकार ने पर्याप्त तैयारी नहीं की. बल्कि ऐसे लोगों का दर्द ये है कि सरकार ने उन्हें तैयारी करने का कोई मौका नहीं दिया. अगर ऐसे लोगों को तैयारी करने के लिए 72 घंटे मिल जाते तो ये लोग तारीफ करते कि मोदी जैसा कोई दूसरा नहीं है.