देहरादून : खाली होने शुरू हो गए उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्रियों के आवास!

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्रियों ने हाई कोर्ट व शासन के नोटिस के क्रम में सरकारी आवासों को खाली करना शुरू कर दिया है. इन सभी को 16 दिसंबर तक सरकारी आवास खाली करने हैं. हालांकि, अभी तक किसी भी पूर्व मुख्यमंत्री ने इसकी अधिकारिक सूचना शासन को उपलब्ध नहीं कराई है.

सूबे में अभी तक पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी आवास उपलब्ध कराए जाते थे. उत्तर प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्रियों को दी जा रही सुविधाओं के क्रम भी उत्तराखंड सरकार ने भी इन्हें सरकारी आवास की सुविधा देने का निर्णय लिया था.

पूर्व मुख्यमंत्री नित्यानंद स्वामी को छोड़कर सभी पूर्व मुख्यमंत्री सरकारी आवासों पर रहते थे. उत्तर प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्रियों से सरकारी आवास की सुविधा समाप्त करने के निर्णय के पश्चात उत्तराखंड हाईकोर्ट में भी इस संबंध में एक जनहित याचिका दाखिल की गई थी.

याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्रियों से स्पष्टीकरण तलब करने के साथ ही इन्हें आवास खाली करने के निर्देश दिए थे. इसके क्रम में शासन की ओर से सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को कोठी खाली करने का नोटिस जारी किया गया था.

पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने कैंट रोड पर हाथीबड़कला स्थित सरकारी आवास से अपना सारा समान हटा दिया है. हालांकि, अभी तक उन्होंने भी इसकी कोई आधिकारिक सूचना शासन को नहीं भेजी है.