भवाली: नोट बंदी पर सीएम हरीश रावत ने मोदी सरकार की घोर निंदा की, बोले जनता माफ़ नहीं करेगी

सहकारी कृषक महोत्सव के उद्घाटन के मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि सहकारिता के माध्यम से आज उत्तराखंड में मातृ शक्ति और महिला सशक्तिकरण के प्रयासों से विकास की नई ऊंचाईयों को छुआ गया है, आज प्रदेश के विकास में इनका योगदान सराहनीय है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए सरकार हर संभव मदद देने को तैयार है। उन्होंने एक हजार और पांच सौ की नोट बन्दी के कारण पैदा हुई परेशानी से केन्द्र की मोदी सरकार की घोर निन्दा की और कहा कि जनता जल्द ही इसका फैसला लेगी और चुनावों में भाजपा की सरकार को मुंह की खानी पड़ेगी।

सोमवार को नगर पालिका मैदान में कार्यक्रम का उद्घाटन श्री रावत, अध्यक्ष राज्य सहकारी बैंक संजीव आर्या सहकारिता मंत्री यशपाल आर्या, विधायक सरिता आर्या, राजेन्द्र सिंह आदि ने विधिवत दीप प्रज्वलित कर किया।

श्री रावत ने कहा कि सहकारी बैंकों ने उत्तराखंड के विकास में एक नया आयाम स्थापित किया है इससे पूंजी बड़ी है। और मार्केटिंग हम करेंगे। श्री रावत ने कहा कि 2020 तक गरीबी को बाई -बाई करना होगा और 2022 तक सभी लोगों को छत मुहैया करा दी जायेगी। श्री रावत ने नगर में सीवर लाईन, जी0बी0 पन्त में जीवविज्ञान और नगर में नाले को पाटने की घोषणा की।

इससे पूर्व सी0एम0 हैलीकाप्टर से सैनिक स्कूल हेलीपैड में उतरे और वहां से नगर पालिका मैदान पहुंचे और वहां पहुंचकर श्री रावत ने अपार जनसमूह का हाथ उठाकर अभिवादन किया, सी0एम0 का लोगों ने फूल मालाओं से स्वागत किया। संजीव आर्या और राजेन्द्र सिंह ने उन्हें प्रतीक चिन्ह, एवं शाल भेंट किया। वहीं सी0एम0 को नगर कांगे्रस के सदस्यों ने सम्मानित किया।

इस अवसर पर कार्यक्रम के दौरान सम्मेलन में काँग्रेस पूर्व सांसद डा0 महेन्द्र पाल, डा0 हरीश बिष्ट, विधायक सरिता आर्या, उत्तराखण्ड सहकारी बैंक के अध्यक्ष संजीव आर्या, नैनीताल जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह नेगी, उपाध्यक्ष महिपाल सिंह डंगवाल, महाप्रबन्धक बी0सी0पाण्डे, जिला पंचायत अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद, पूर्व विधायक दान सिंह भण्डारी, जया बिष्ट,
सतीश नैनवाल, प्रसान्त भैसोड़ा, सुभाष भैसौड़ा, जिलाधिकारी दीपक रावत, चैयरमैन नीमा बिष्ट, फ्रूट फेडरेशन के अध्यक्ष गोपाल नेगी और डेरी फेडरेशन के अध्यक्ष अर्जुन रौतेला, पूर्व छात्र नेता काँग्रेस महासचिव विजयी सिजवाली सहित स्वयं सेवा समूह के सदस्य और सहकारिता से जुड़े सभी सदस्य बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

(रिपोर्ट – यू एस सिजवाली, भवाली)