भ्रष्टाचार के खिलाफ कब तक चुप बैठेगा देश, कदम तो उठाना ही था : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को आगरा में कहा कि नोटबंदी का फैसला किसी को परेशान करने के लिए नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि आखिर भ्रष्टाचार के खिलाफ देश कब तक चुप बैठेगा. इसे मिटाने के लिए कार्रवाई बहुत जरूरी हो गई थी. यह बेइमानों के खिलाफ लड़ाई है. इसमें सबका सहयोग जरूरी है.

पीएम मोदी ने इस मौके पर प्रधानमंत्री आवास योजना और ग्रामीण आवास योजना का भी उद्घाटन किया. आगरा के कोठी मीना बाजार में परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के फैसले के बाद देश में पांच लाख करोड़ रुपये जमा कराए गए हैं.

पीएम मोदी ने आगरा पहुंचकर सबसे पहले ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थियों से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने इस योजना का विधिवत शुभारंभ किया. उन्होंने पांच लाभार्थियों को आवास आवंटन पत्र सौंपे. बटन दबाकर मथुरा-पलवल चौथी लाइन परियोजना का शिलान्यास किया.

उन्होंने कहा, ‘नोट बदलने में थोड़ी समस्या आएगी. आपको थोड़ा कष्ट सहना होगा. यह कदम आपके लिए ही उठाया गया है. आजादी के बाद से ही भ्रष्टाचार पूरे देश को दीमक की तरह खा रहा था. देश कब तक चुप बैठता.’

भ्रष्टाचार मिटाने के लिए मिल रहा जनता का सहयोग
पीएम मोदी ने कहा, ‘केंद्र सरकार का पहला काम है कि शहरी क्षेत्र हो, या ग्रामीण क्षेत्र, सबके पास अपना घर हो. इसके लिए सरकार कई योजनाएं लेकर आ रही है. मोदी ने कहा कि देश से भ्रष्टाचार मिटाने के लिए हर वर्ग के लोगों का समर्थन मिल रहा है.’

उन्होंने कहा, ‘देश को भ्रष्टाचारियों से मुक्त कराने के लिए जो बीड़ा उठाया है, उसका सीधा लाभ गरीबों को मिलेगा. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि आपके सपने सच होकर रहेंगे. यह काम बहुत बड़ा है. नोटबंदी से थोड़ी असुविधा होगी, लेकिन देशवासी इस कार्य को सफल बनाने के लिए कष्ट उठा रहे हैं. भ्रष्टाचार दूर करने के लिए हर वर्ग के लोग कष्ट उठा रहे हैं. आपका यह त्याग बेकार नहीं जाएगा.’

कानपुर रेल हादसे पर जताया दुख
इससे पूर्व कानपुर के पुखरायां में हुए भीषण रेल हादसे पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह काफी दुखद है. उन्होंने कहा केंद्र सरकार की तरफ से दुर्घटना की पूरी जांच तो होगी ही, लेकिन पीड़ित परिवारों को पूरी सहायता प्रदान की जाएगी.

पीएम मोदी ने इस मौके पर रेल हादसे में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की. उन्होंने कहा कि इसका उन्हें काफी दुख है. इस हादसे से उबरने के लिए केंद्र पूरी मदद करेगा.

लोगों के जीवन में सुधार आएगा
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘रेलवे की बेहतरी से यहां के लोगों के जीवन में सुधार हो जाएगा. प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत गरीबों का खाता खुलवाया. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ गरीबों को मिल रहा है. इससे गरीबों को चूल्हा जलाने से मुक्ति मिलेगी. इस योजना से गरीबों को गैस कनेक्शन मिलेगा. चूल्हे पर खाना बनाना नहीं पड़ेगा. लकड़ियों के लिए गरीबों को भटकना नहीं पड़ेगा. इससे गरीबों के जीवन में बदलाव आएगा.’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘देश में 18 हजार गांव 18वीं शताब्दी में जीते थे. बिजली का काम पूरा करने की ठानी थी. 95 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है. गरीबों की प्राथमिकता को लेकर आगे बढ़ रहे हैं. देश के गरीबों, नौजवानों का कर्ज अदा करना चाहता हूं.’

अपने खाते में न डालने दें किसी को रुपया
प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी लागू करते वक्त ही मैंने जनता से पचास दिन मांगे थे. सुधार के लिए आपको थोड़ा कष्ट सहन करना होगा. उन्होंने जनधन के खातों में कालाधन डालने की खबरों पर कहा कि किसी को अपने खाते में ढाई लाख न डालने दें. नहीं तो कानून बहुत सख्त है. ऐसे 500 और 1000 के नोटों से दूर रहें.