इंदौर-पटना एक्सप्रेस दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को 12.5 लाख मुआवजे की घोषणा

इंदौर-पटना एक्सप्रेस रेल हादसे के बाद रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने टीम और अधिकारियों को तुरंत मौके पर पहुंचने के आदेश दिए साथ ही यह भी घोषणा की कि रेलवे सुरक्षा कमिश्नर हादसे की जांच करेंगे. उन्होंने कहा कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा. मृतकों के परिवार और घायलों को केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा अलग अलग मुआवज़े का ऐलान किया गया.

रेल मंत्रालय ने मृतकों के परिजनों को 3.5 लाख रुपये का मुआवज़ा, वहीं गंभीर जख़्मी को 50-50 हज़ार का मुआवज़ा दिया जाएगा. इनके अलावा हल्की चोट वालों के लिए 25-25 हज़ार रुपये के मुआवज़े का ऐलान किया गया है. पीएम मोदी ने मृतक के परिवार को 2 लाख रु और गंभीर रूप से घायलों को 50 हज़ार रु के मुआवज़े का ऐलान किया.

इसके अलावा यूपी सरकार ने गंभीर रूप से घायलों के लिए 50 हजार रुपये मुआवजा और सामान्य घायलों के लिए 25 हजार रुपये मुआवजे का ऐलान किया है. वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिवार को 2 लाख रु और गंभीर जख्मी को 50 हज़ार रु के मुआवज़े का ऐलान किया है.

कुल मिलाकर मृतकों के परिवार को अभी तक 12.5 लाख के मुआवज़े दिए जाने की बात कही गई है.

बता दें कि आज सुबह करीब तीन बजे मध्य प्रदेश के इंदौर से बिहार की राजधानी पटना जा रही इंदौर-पटना एक्‍सप्रेस ट्रेन (19321) रविवार तड़के कानपुर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई. इस हादसे में खबर लिखे जाने के समय कम से कम 100 लोगों की मौत हो गई, जबकि 150 से अधिक घायल हो गए. रेलवे अधिकारियों का कहना है कि हताहतों की संख्या बढ़ने की आशंका है.