विशाखापट्टनम टेस्ट : तीसरे दिन भारत ने मैच पर कसा शिकंजा, 298 रनों की बढ़त

रविचंद्रन अश्विन (67/5) की शानदार गेंदबाजी के बाद कप्तान विराट कोहली (नाबाद 56) के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार को इंग्लैंड पर 298 रनों की बढ़त हासिल कर ली है.

तीसरे दिन अश्विन की अगुवाई में भारतीय गेंदबाजों ने इंग्लैंड की पहली पारी 255 रनों पर समेट दी और उसके बाद अपनी दूसरी पारी में तीन विकेट खोकर 98 रन बनाते हुए मैच पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

कप्तान विराट कोहली के साथ अजिंक्य रहाणे 22 रन बनाकर नाबाद लौटे. दोनों के बीच 58 रनों की नाबाद साझेदारी हो चुकी है. भारत ने हालांकि मुरली विजय (3), लोकेश राहुल (10) और चेतेश्वर पुजारा (1) के रूप में अपने शुरुआती तीन विकेट सस्ते में गंवा दिए.

भारत ने पहली पारी के आधार पर 200 रनों की बढ़त ले ली थी, लेकिन इंग्लैंड को फॉलोआन खेलने का न्यौता नहीं दिया. दिन का पहला सत्र इंग्लैंड के नाम रहा. पांच विकेट पर 103 रनों से आगे खेलने उतरी इंग्लैंड ने इस सत्र में जॉनी बेयरस्टो (53) के रूप में एकमात्र विकेट गंवाते हुए अपने स्कोर में 88 रन जोड़े. बेयरस्टो और बेन स्टोक्स (70) ने छठे विकेट के लिए 110 रनों की साझेदारी की.

हालांकि इसके बाद दूसरे सत्र में इंग्लैंड ने अपने शेष चार विकेट जल्दी-जल्दी गंवा दिए. दूसरे सत्र में गिरे इन चार विकेटों में तीन विकेट अश्विन ने लिए. आदिल राशिद 32 रन बनाकर अंत तक नाबाद रहे. जो रूट (53) ने भी अर्धशतकीय योगदान दिया.

उमेश यादव ने 190 के स्कोर पर बेयरस्टो की गिल्लियां बिखेरते हुए भारत को दिन की पहली सफलता दिलाई. बेयरस्टो ने अपनी पारी में 152 गेंदें खेलते हुए पांच चौके लगाए.

इसके बाद आए राशिद ने स्टोक्स के साथ 35 रनों की साझेदारी निभाई. इंग्लैंड का सातवां विकेट स्टोक्स के रूप में 225 रनों के कुल योग पर गिरा. अश्विन की गेंद पर स्टोक्स पगबाधा करार दिए. इंग्लैंड ने मैदानी अंपायर के निर्णय पर डीआरएस का उपयोग किया, हालांकि तीसरे अंपायर ने मैदानी अंपायर की फैसला कायम रखा.

भारतीय गेंदबाजों ने यहां से राशिद का साथ देने आए बल्लेबाजों को मैदान पर टिकने नहीं दिया. जफर अंसारी (4), स्टुअर्ट ब्रॉड (13) और जेम्स एंडरसन के विकेट लगातार गिरे. अश्विन ने लगातार दो गेंद पर 255 के स्कोर पर ब्रॉड और एंडरसन का विकेट चटकाया और इंग्लैंड की पारी को समेट दिया.

अश्विन के अलावा मोहम्मद समी, उमेश यादव, रवींद्र जडेजा और जयंत को एक-एक सफलता मिली.

इससे पहले, भारत ने अपनी पहली पारी में कप्तान विराट कोहली (167) और चेतेश्वर पुजारा (119) की शतकीय पारियों की बदौलत 455 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया. इस पारी में 58 रनों का अहम योगदान देने वाले रविचंद्रन अश्विन ने अपने टेस्ट करियर का आठवां अर्धशतक भी पूरा किया.

पांच मैचों की सीरीज का पहला मैच ड्रॉ रहा था.