अमेरिका में ट्रंप के खिलाफ प्रदर्शन जारी, ट्रंप ने कहा, ‘मीडिया द्वारा भड़काए पेशेवर प्रदर्शनकारी’ हैं

न्यूयॉर्क।… अमेरिका में हजारों लोग अब भी राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप की जीत का विरोध कर रहे हैं. सीएनएन के मुताबिक, न्यूयॉर्क में शुक्रवार को 58 मंजिला ट्रंप टॉवर के बाहर लोगों का अब तक सबसे बड़ा हुजूम उमड़ पड़ा. मंगलवार रात ट्रंप की जीत के बाद से लगातार तीसरी रात विरोध प्रदर्शनों का दौर जारी है.

प्रशासन के मुताबिक, सप्ताहांत में अभी और प्रदर्शन हो सकते हैं. मियामी में हजारों की संख्या में लोग ‘लव ट्रंप्स हेट’ के नारे लगाते रहे हैं और ‘ट्रंप पर अमेरिका की बर्बादी’ का आरोप लगाते हुए होर्डिंग पकड़े हुए थे.

अधिकांश प्रदर्शनकारी समूह इंटरस्टेट 395 (मार्ग) पहुंचे और वहां उन्होंने कारों को चारों ओर से घेर लिया. चार लेन वाली सड़क पर यातातयात ठप हो गया. सीएनएन के मुताबिक, लोवा शहर में इंटरस्टेट 80 (मार्ग) को बंद कर दिया गया.

ट्रंप ने विरोध प्रदर्शनों के बारे में दो बार ट्वीट किए. उन्होंने गुरुवार को कहा था, ‘एक बहुत ही खुला और सफल राष्ट्रपति चुनाव हुआ है. अब मीडिया द्वारा भड़काए पेशेवर प्रदर्शनकारी इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.’

उन्होंने शुक्रवार को कहा, ‘गुरुवार रात प्रदर्शनकारियों के छोटे समूह का देश के प्रति जुनून देखकर अच्छा लगा. हम सभी को एकजुट होकर देश पर गौरवान्वित होना चाहिए.’

न्यू हेवन, कनेक्टिकट, ऑरलैंडो, फ्लोरिडा, शिकागो, बोस्टन, एशविले, नॉर्थ कैरोलिना, नैशविले की वैंडरबिल्ट यूनिवर्सिटी, टेनिसी, कोलंबस में ओहियो विश्वविद्यालय और डेनवर एवं ओमाहा के हाई स्कूल सहित कई अन्य शहरों में भी प्रदर्शन हुए.

ये प्रदर्शनकारी समूह आव्रजन, पर्यावरण, एलजीबीटी समुदाय के अधिकारों और अन्य मुद्दों पर ट्रंप की नीति को लेकर गुस्से में हैं.

वरमोंट के बर्लिगटन में ट्रंप के विरोध में प्रदर्शन के लिए बनाए गए फेसबुक पेज के मुताबिक, ‘आइए, विद्वेष, नस्लवाद, होमोफोबिया, स्त्री द्वेष और जलवायु विज्ञान से इत्तेफाक नहीं रखने वाले ट्रंप/पेंस के कार्यकाल के खिलाफ प्रदर्शन करें. आइए मुसलमानों, समलैंगिकों, प्रवासियों और महिला परिवारों के प्रति समर्थन दिखाएं.’