राहुल गांधी ने बैंक की लाइन में लगकर बदलवाए 4000 रुपये के पुराने नोट, पीएम मोदी को लताड़ा

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को उस वक्त लोगों को चौंका दिया जब वह संसद मार्ग स्थित भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की शाखा में पहुंचे और आम लोगों की तरह कतार में खड़े होकर 500 और 1000 रुपये के अपने पुराने नोट बदलवाए.

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें यह बात समझ नहीं आएगी कि केंद्र सरकार के इस कदम के कारण लोगों को कितनी तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि सरकार गरीबों के लिए होनी चाहिए, सिर्फ 15-20 लोगों के लिए नहीं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि वह कतार में इसलिए खड़े हैं, क्योंकि लोग अपने 500 और 1000 रुपये के नोट बदलवाने में दिक्कतों का सामना कर रहे हैं. राहुल गांधी ने पत्रकारों से कहा, ‘इस कतार में कोई करोड़पति नहीं है. गरीब लोग कई घंटे से कतार में खड़े हैं. मैं कहना चाहता हूं कि सरकार गरीबों के लिए होनी चाहिए, सिर्फ 15-20 लोगों के लिए नहीं.’

उन्होंने कहा, ‘लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, इसलिए मैं उनके साथ खड़े होने आया हूं. मैं यहां 4,000 रुपये के पुराने नोट जमाकर नए नोट लेने आया हूं.’ राहुल गांधी ने पत्रकारों से कहा, ‘न तो आप, न ही आपके करोड़पति मालिक और न ही प्रधानमंत्री समझ पाएंगे कि लोगों को कैसी तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है.’

शुक्रवार शाम 4.25 बजे एसबीआई शाखा पहुंचे राहुल गांधी ने अपने पुराने नोट बदलवाने के लिए कतार में खड़े होकर अपनी बारी आने का इंतजार किया. उन्होंने कतार में खड़े लोगों से बात भी की और उनकी मुश्किलें सुनीं. कई लोगों ने राहुल गांधी के साथ सेल्फी भी ली.

राहुल गांधी के बैंक पहुंचने पर वहां मौजूद परेशान लोगों को कुछ और तकलीफों का सामना करना पड़ा. कई लोग राहुल की एक झलक पाने की कोशिश कर रहे थे. बैंक के भी कई कर्मियों को राहुल के साथ तस्वीरें खिंचवाते देखा गया. राहुल करीब 40 मिनट तक बैंक में रहे.