बैडमिंटन : विश्व चैंपियनशिप के क्वार्टरफाइनल में हारकर भी उत्तराखंड की कुहू ने जीता दिल

जूनियर वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में उत्तराखंड की शटलर कुहू गर्ग मिश्रित युगल वर्ग में शानदार प्रदर्शन करते हुए क्वार्टर फाइनल पहुंचीं. हालांकि क्वार्टर फाइनल में उन्हें हार का सामना करना पड़ा, लेकिन भारत की ओर से किसी भी वर्ल्ड चैंपियनशिप में यह अब तक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. इससे पहले कोई भी जोड़ी क्वार्टर फाइनल तक नहीं पहुंच पाई थी.

स्पेन में चल रही प्रतियोगता के मिश्रित युगल वर्ग में कुहू व सात्विक साईं राज की जोड़ी ने प्री-क्वार्टर फाइनल में जापान की माहिरो कनिको व मिनामी की जोड़ी को 21-17, 21-23 व 21-17 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी. क्वार्टर फाइनल में मलेशिया की जोड़ी से उनका कांटे का मुकाबला हुआ.

पहले सेट में कुहू व सात्विक की जोड़ी 13-21 से हारी. दूसरे सेट में दोनों ने शानदार वापसी करते हुए 21-13 से सेट अपने नाम कर लिया. तीसरे और निर्णायक सेट में मलेशिया की चेन व तोह की जोड़ी ने कड़े संघर्ष में 19-21 से जीत हासिल कर मुकाबला अपने नाम कर लिया.

उत्तरांचल स्टेट बैडमिंटन एसोसिएशन के सचिव बीए मनकोटी ने बताया कि वर्ल्ड चैंपियनशिप में कुहू व सात्विक ने अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन किया है. प्रतियोगिता में उत्तराखंड के लक्ष्य सेन प्री-क्वार्टर तक पहुंचने में सफल रहे. कुहू के शानदार प्रदर्शन पर एसोसिएशन के अध्यक्ष एडीजी अशोक कुमार व अन्य पदाधिकारियों ने उन्हें शुभकामनाएं दी.