एक बार फिर केंद्र पर भड़के मुख्यमंत्री हरीश रावत, विकास कार्य रोकने का आरोप लगाया

मंगलौर में आयोजित दीपावली मिलन कार्यक्रम पहुंचे मुख्यमंत्री हरीश रावत का कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया. उन्होंने कार्यकर्ताओं व जनता को दीपावली और क्रिसमस की बधाई दी. इस दौरान मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले तो राज्य के बजट को रोक दिया. उसके बाद राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया.

हरदा ने कहा कि राज्य का विकास रुक गया, फिर भी राज्य सरकार ने केंद्र के साथ लड़ाई लड़ते हुए भी इन चार सालों में राज्य का विकास किया है. मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि हमारा राज्य 6 अन्य विकसित राज्यों के साथ आगे बढ़ रहा है और आने वाले 2017 विधानसभा चुनाव में जनता मेरा साथ देगी तो मैं उत्तराखंड राज्य को नम्बर वन राज्य बना दूगा.

मुख्यमंत्री कहा कि केंद्र सरकार नमामि गंगे का नारा लगा रही है, लेकिन राज्य सरकार से जितना काम गंगा में हो सकता था. हमारी सरकार ने करवाया साथ ही कहा कि हर की पैड़ी पर स्वच्छ जल लाने की भी कोशिश करेंगे. वहीं उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत के तहत केंद्र सरकार हर घर में शौचालय की बात करती है, लेकिन यह काम राज्य सरकार ने ही करके दिखाया है.

उन्होंने कहा कि आज कई घरों में शौचालय की व्यवस्था की गई है. राज्य सरकार ने कई गांवों में शौचालय की व्यवस्था की है. मुख्यमंत्री ने किसानों के लिए कहा कि उनका गन्ना भुगतान भी राज्य सरकार जल्द करेगी.