आखिरी फोन कॉल से खुलासा, राहुल ने किया प्रत्युषा को गंदे काम के लिए मजबूर

टीवी ऐक्ट्रेस और ‘बालिका वधू’ के नाम से मशहूर रहीं प्रत्युषा बनर्जी की आत्महत्या के मामले में एक नया खुलासा सामने आया है. प्रत्युषा और उसके बॉयफ्रेंड और टीवी एक्टर राहुल राज की आखिरी बातचीत सामने आई है. इस फोन कॉल की प्रत्युषा के माता-पिता सोमा और शंकर बनर्जी के वकील नीरज गुप्ता ने एक अंग्रेजी अखबार से इस बातचीत के सही होने की पुष्टि भी कर दी है. इन बातचीत से साफ़ हो जाता है कि प्रत्युषा और राहुल के बीच किसी निजी मसले पर लड़ाई चल रही थी और प्रत्युषा, राहुल से काफी नाराज़ भी थी.

क्या है फोन कॉल में ?

3 मिनट के इस फोन कॉल के ट्रान्सक्रिप्शन पर नज़र डालें तो प्रत्युषा राहुल से कहती है- ”(राहुल को गाली देते हुए) मैंने जीवन में बहुत मेहनत की है, मैंने बालिका वधू के लिए भी बहुत मेहनत की है…मैं यहां खुद को बेचने के लिए नहीं आई थी…मैं यहां एक्टिंग करने, काम करने आई थी…और देखो तुमने(राहुल) आज मुझे कहां लाकर खड़ा कर दिया है. राहुल तुम्हें अंदाजा भी नहीं है कि आज मैं कितना ख़राब महसूस कर रही हूं।.’

इसी फोन कॉल के दूसरे हिस्से में प्रत्युषा बार -बार राहुल को मतलबी कह रहीं थी और उस पर अपना नाम ख़राब करने का भी आरोप लगा रही थी. प्रत्युषा का कहना था कि राहुल खुद को बचाने के लिए उसके माता-पिता का नाम ख़राब कर रहा है. इसी फोन कॉल में प्रत्युषा ने ये भी कहा था कि आधे घंटे में सब ख़तम हो जाएगा. उसके बारे में घटिया बातें फैला रहा है. गुप्ता का आरोप है कि राहुल ने भी बनर्जी दंपति को धमकी देने की कोशिश की थी.

प्रत्युषा के माता-पिता के वकील नीरज गुप्ता का कहना है कि इस फोन कॉल से साफ हो जाता है कि राहुल प्रत्युषा पर गलत कामों के लिए दबाव बना रहा था. उनके मुताबिक इस फोन कॉल में दो बार वेश्यावृत्ति शब्द भी आया है जो शक को और मजबूत कर देता है. बता दें कि 24 साल की प्रत्युषा ने मुंबई के गोरेगांव में अपने फ़्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी और उसे उकसाने के आरोप में राहुल को जेल जाना पड़ा था जो फिलहाल बेल पर बाहर है. राहुल ने आरोप लगाया था कि प्रत्युषा ने उसे बताया था कि उसके माता-पिता बार-बार उसे ज्यादा पैसे कमाने के लिए मजबूर करते रहे थे.