51 साल के हुए शाहरुख खान, बॉलीवुड में उन्हें किंग ऑफ रोमांस कहा जाता है

शाहरुख खान को ‘बादशाह खान’, ‘किंग ऑफ बालीवुड’, ‘किंग खान’, ‘रोमांस किंग’ जैसे न जाने कितने नामों से जाना जाता है. यह बॉलीवुड सुपरस्टार आज 51 साल का हो गया है.

दो दशक से भी ज्यादा समय से दर्शकों के दिलों पर राज कर रहे शाहरुख ने साल 1989 में टीवी शो ‘फौजी’ से अपने करियर की शुरुआत की थी. हिंदी फिल्म जगत में उनकी पहली फिल्म ‘दीवाना’ जून 1992 में आई थी, जिसमें उनके साथ मुख्य भूमिका में दिव्या भारती और ऋषि कपूर भी थे.

‘दीवाना’ बॉक्स ऑफिस पर एक बड़ी हिट साबित हुई थी और शाहरुख को फिल्म में अपने शानदार अभिनय के लिए ‘फिल्मफेयर फॉर बेस्ट मेल डेब्यू’ का पुरस्कार मिला था.

साल 1993 में आई ‘डर’ और ‘बाजीगर’ में उनकी खलनायक की भूमिका को भी दर्शकों ने खूब सराहा था. इसके बाद शाहरुख अपने अभिनय कौशल की छटा बिखेरते हुए शोहरत की सीढ़ियां चढ़ते गए और पीछे मुड़कर नहीं देखा.

फिल्मकार यश चोपड़ा के साथ की उनकी सभी फिल्में ‘दिल तो पागल है’, ‘दिल से’, ‘वीर जारा’, ‘जब तक है जान’ बड़ी हिट रहीं और बालीवुड में शाहरुख को ‘किंग ऑफ रोमांस’ कहा जाने लगा. यश चोपड़ा के अलावा उनके बेटे निर्देशक आदित्य चोपड़ा के साथ भी शाहरुख की जोड़ी हिट रही और दोनों ने एक साथ ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’, ‘मोहब्बतें’, ‘रब ने बना दी जोड़ी’ जैसी सफल फिल्में दीं.

srk-kajol-ddlj

बालीवुड में वैसे तो शाहरुख की लगभग सभी बड़ी हीरोइनों के साथ केमेस्ट्री कमाल की रही, लेकिन ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ से लेकर ‘दिलवाले’ तक काजोल के साथ उनकी जोड़ी हमेशा बड़े पर्दे पर हिट साबित हुई.

शाहरुख ने अपनी बेहतरीन अदाकारी के लिए तमाम पुरस्कार हासिल किए, जिसमें 14 फिल्मफेयर अवॉर्ड शामिल हैं. फिल्मों में उनके बहुमूल्य योगदान के लिए भारत सरकार उन्हें पद्मश्री से सम्मानित कर चुकी है.

बालीवुड में अपार सफलता हासिल करने वाले किंग खान अपनी निजी जिंदगी में भी किंग साबित हुए. उन्होंने बालीवुड में अपना करियर शुरू होने से पहले साल 1991 में गौरी से शादी कर ली थी, जिनके साथ वह लंबे समय से प्रेमसंबंधों में थे. शाहरुख के तीन बच्चे आर्यन खान, सुहाना खान और अब्राम खान हैं.

बॉक्स ऑफिस पर हालांकि पिछले कुछ समय से शाहरुख की फिल्में कोई बड़ा धमाका नहीं कर पाई हैं, लेकिन उनके प्रशंसकों को उनकी आने वाली फिल्म ‘रईस’ और ‘डियर जिंदगी’ से बड़ी उम्मीदें हैं.