दिवाली की रात भोपाल सेंट्रल जेल में गार्ड की हत्या कर सिमी के 8 आतंकवादी फरार

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की केंद्रीय जेल से प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के आठ आतंकी दिवाली की रात चादर के सहारे दीवार फांदकर भागने में सफल हो गए.

फरार होने से पहले इन आतंकियों ने एक प्रहरी की हत्या कर दी और एक को बंधक बना लिया. पुलिस ने भोपाल की सभी सीमाओं को सील कर आतंकियों की तलाश तेज कर दी है. वहीं, पूरे प्रदेश में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है.

जेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आतंकियों ने दिवाली की रात को लगभग 12 से दो बजे के बीच एक दरवाजे को तोड़ा और उसके बाद चादरों को रस्सी की तरह प्रयोग करके दीवार फांद कर फरार हो गए. भागने वाले आतंकियों पर देशद्रोह के मामले चल रहे हैं.

राज्य के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया कि केंद्रीय जेल भोपाल से रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात को सिमी के आठ आतंकियों ने एक प्रहरी की हत्या कर दी और एक अन्य को बंधक बनाने के बाद फरार हो गए. यह वारदात रात 12 से दो बजे के बीच हुए होने की आशंका हैं.

उन्होंने आगे बताया कि भोपाल से जुड़ी सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है और सुरक्षा बढ़ा दी गई है. साथ ही राज्यभर में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है. आतंकियों को पकड़ने के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं.

गृहमंत्री ने संवाददाताओं से चर्चा के दौरान माना कि यह सुरक्षा में बड़ी चूक है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछले दिनों ही जेल की सुरक्षा के निर्देश दिए थे, उसके बाद यह घटना होना चिंताजनक है.

तीन साल पहले सात कैदी, जो कि प्रतिबंधित आतंकी संगठन सिमी से ही संबंधित थे, खांडवा की जेल से फरार हो गए थे. यहां पर ये आतंकी जेल में बाथरूम की दीवार तोड़कर फरार हुए थे. खांडवा राजधानी भोपाल से करीब 280 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.