अफगानिस्तान में वरिष्ठ अल-कायदा नेता पर निशाना साधकर किए गए ड्रोन हमले

न्यूयॉर्क।… अमेरिकी ड्रोनों ने रविवार को उत्तरपूर्वी अफगानिस्तान में अल-कायदा के एक वरिष्ठ नेता और उसके सहायक पर निशाना साधकर हमले किये. यह जानकारी अमेरिकी सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी है.

अधिकारी ने बताया कि ड्रोन हमले कुनार प्रांत में अलकायदा के उत्तरपूर्वी अफगानिस्तान के सैन्य प्रमुख फारूक अल-कतानी एवं उसके सहायक बिलाल अल-मुतायबी पर किये गये.

अमेरिकी सेना का मानना है कि ये दोनों मारे गए हैं, लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं की गई है कि हमला सफल रहा.

एक अधिकारी ने बताया, ‘हम आत्मविश्वास से भरा महसूस कर रहे हैं. पेंटागन को कई सालों से कतानी की तलाश थी.

सैन्य अधिकारियों की इन पर वर्ष 2012 में भी नजर थी और उस समय हमले की तैयारी भी कर ली गई थी, लेकिन आम नागरिकों को नुकसान पहुंचने की आशंका के कारण आखिरी वक्त पर मिशन को रोक दिया था.

अधिकारी ने बताया कि कतानी और उसका सहायक कुनार के गाजी अबाद जिले में हिलगल गांव में थे. वे दोनों कुछ सौ मीटर की दूरी पर दो अलग-अलग इमारतों में ठहरे थे और उन पर विभिन्न ड्रोनों ने तकरीबन एक साथ हमला किया.

प्रांतीय प्रवक्ता अब्दुल गनी मोसामेम ने एएफपी को बताया कि कम से कम 15 आतंकी मारे गए हैं, जिनमें दो अरब से हैं. उन्होंने कहा कि मरने वालों में कई पाकिस्तानी तालिबान लड़ाके भी शामिल हैं.

कतानी और मुतायबी, कुनार में अलकायदा के वरिष्ठ कमांडर थे और अलकायदा के लिए स्थानीय युवाओं की भर्ती में सक्रिय रूप से शामिल थे.