50 पैसे का उपला क्या खराब हुआ, दरिंदे बाप-बेटे ने बच्चे की उंगली काट डाली

कभी अपने छोटे-छोटे स्वार्थ के लिए तो कभी बेहद मामूली नुकसान के लिए इंसान ऐसी हरकतें कर जाता है कि उसे जानवर कहना भी जानवर की तौहीन लगने लगती है. भावना शून्य इंसान आजकल मामूली नुकसान के बदले किसी की जिंदगी बर्बाद करने से भी बाज नहीं आता.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार हरिद्वार जिले के लक्सर क्षेत्र में गोबर का उपला फोड़ने से नाराज बाप-बेटे ने आठ वर्षीय एक बच्चे की उंगली काट दी. पीड़ित बच्चे का पिता कटी हुई उंगली को लेकर थाने पहुंचा और पुलिस को घटना की पूरी कहनी बतायी. देवभूमि में इस तालिबानी करतूत से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया.

बता दें कि जिस एक उपले के फूटने पर एक मासूम बच्चे की उंगली काटी ली गई, उस उपले की कीमत महज 50 पैसे से भी कम है. अभी तक पुलिस आरोपी बाप-बेटे को गिरफ्तार नहीं कर पायी है.

यह दर्दनाक हादसा लक्सर क्षेत्र के भूरना गांव में सामने आया. बुधवार को कक्षा दो का छात्र आर्यन अपने साथियों के साथ खेल रहा था. खेलते-खेलते उसके पैर गोबर से बने उपलों पर पड़ गया और एक उपला फूट गया.

जिस व्यक्ति के यह उपले थे, वह इस बात से इतना नाराज हुआ कि उसने बच्चे की पिटाई शुरू कर दी. मासूम बच्चे को पकड़कर बुरी तरह से पीटा गया.

पीड़ित आर्यन के पिता रोहताश का आरोप है कि इसके बाद आरोपी बाप-बेटे ने धारधार गंडासे से बच्चे की उंगली काट दी. उंगली कटते ही बच्चा दर्द से कराह उठा. ऐसी भयावह हरकत को अंजाम देने के बाद आरोपी बाप-बेटे उसे वहीं पर पड़ा छोड़कर भाग गए.

गांववालों ने बच्चे को देखा तो उसके परिजनों को सूचना दी गई. परिजनों ने बच्चे को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है. पीड़ित बच्चे के पिता की ओर से पुलिस को बाप-बेटे के खिलाफ शिकायत दी गई है.

एसएसपी हरिद्वार, राजीव स्वरूप से जब इस मामले पर मीडिया से बात की तो उन्होंने कहा कि ऐसी घटना को अंजाम देने वाले विकृत मानसिकता के लोग हैं. अरोपियों के खिलाफ मुकदमे के आदेश दे दिए गए हैं. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एक विशेष टीम बना दी गई, उन्हें बहुत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.