नेपाल : संसद ने भ्रष्टाचार रोधी आयोग के प्रमुख के अभियोग पर की चर्चा

काठमांडू।… नेपाल की संसद में मंगलवार को देश के भ्रष्टाचार रोधी आयोग के प्रमुख के खिलाफ महाभियोग के प्रस्ताव पर विचार-विमर्श शुरू किया गया. सांसदों ने आयोग के प्रमुख पर अपने पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है, जिसे लेकर उन्हें निलंबित किया गया है.

लोकमान सिंह कर्की 2013 से अधिकार के दुरुपयोग की जांच से संबंधी आयोग (सीआईएए) के अध्यक्ष हैं. लेकिन शुरुआत से ही उनकी नियुक्ति विवादों के केंद्र में रही क्योंकि वह खुद ही भ्रष्टाचार के मामलों में आरोपी रहे हैं, हालांकि उन्हें कभी भी दोषी करार नहीं दिया गया.

सीपीएन माओवादी सेंटर के सांसद मोहन बहादुर शाही ने सदन में महाभियोग प्रस्ताव पेश किया जबकि सीपीएन-यूएमएल के मुख्य सचेतक भानुभक्त ढकल ने उसका समर्थन किया.