एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी : भारत ने पाकिस्तान को 3-2 से हराया

कुआंटन (मलेशिया)।… शीर्ष रैंकिंग वाले भारत ने चौथी एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी हॉकी चैंपियनशिप के लीग मैच में रविवार को चिर प्रतिद्वंद्वी और गत चैंपियन पाकिस्तान को कड़े मुकाबले में 3-2 से हरा दिया.

पाकिस्तान के शुरुआती हमलों के बीच भारतीय डिफेंस ने धैर्य बरकरार रखा. युवा स्ट्राइकर प्रदीप मोर ने अपने 13वें अंतरराष्ट्रीय मैच में पहला गोल दागते हुए 11वें मिनट में भारत को बढ़त दिलाई, लेकिन पाकिस्तान ने मोहम्मद रिजवान सीनियर (31वें मिनट) और मोहम्मद इरफान जूनियर (39वें) के गोल की मदद से जोरदार वापसी करते हुए 2-1 से बढ़त बना ली.

रूपिंदर पाल सिंह ने 43वें मिनट में भारत के एकमात्र पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदला, जबकि रमनदीप ने तलविंदर सिंह के क्रॉस पर अगले ही मिनट गोल दागकर स्कोर 3-2 कर दिया, जो निर्णायक साबित हुआ. इस जीत से भारत के तीन मैचों में सात अंक हो गए हैं. भारत ने अपने पहले मैच में जापान को 10-2 से हराया था, जबकि दक्षिण कोरिया के खिलाफ शनिवार को 1-1 से ड्रॉ खेला था. दो बार के गत चैंपियन पाकिस्तान को मेजबान मलेशिया के खिलाफ पहले मैच में 2-4 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी, जबकि दूसरे मैच में उसने दक्षिण कोरिया को 1-0 से हराया. राउंड रोबिन चरण के बाद शीर्ष चार टीमें सेमीफाइनल में जगह बनाएंगी.

पाकिस्तान को पहले ही मिनट में मैच का पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने विरोधी टीम को गोल से वंचित रखा. श्रीजेश ने पहले मोहम्मद अलीम बिलाल की ड्रैग फ्लिक को पैड से रोका और फिर अपनी दाईं ओर गोता लगाते हुए रिबाउंड प्रयास को भी नाकाम कर दिया. पाकिस्तान ने चौथे ही मिनट में एक और शानदार मूव बनाया, लेकिन मोहम्मद रिजवान जूनियर सर्कल के ऊपर मिले शॉट को गोल में डालने में नाकाम रहे.

भारत ने भी इस बीच कुछ अच्छे मूव बनाए, लेकिन विरोधी टीम के डिफेंस को भेदने में नाकाम रहे. भारत की ओर से गोल करने का सबसे पहला मौका तलविंदर सिंह को मिला, लेकिन दाएं छोर से मिले पास पर वह रिवर्स हिट से गोल नहीं दाग सके.

प्रदीप ने 22वें मिनट में पाकिस्तानी डिफेंडर से टकराकर आई गेंद को गोल में डालकर भारत को बढ़त दिलाई. प्रदीप के शॉट का पाकिस्तानी गोलकीपर इमरान बट के पास कोई जवाब नहीं था. अपने 13वें अंतरराष्ट्रीय मैच में खेल रहे 24 साल के प्रदीप का यह पहला अंतरराष्ट्रीय गोल है. गोल से सकते में आए पाकिस्तान ने इसके बाद लगातार हमले किए, लेकिन भारतीय डिफेंडर ने कुछ समय तक विरोधी टीम के स्ट्राइकरों को गोल से महरूम रखा.

मध्यांतर तक भारतीय टीम 1-0 से आगे थी. पाकिस्तान ने मध्यांतर के बाद पहले ही मिनट में बराबरी हासिल कर ली, जब रिजवान सीनियर ने लंबे पास पर गेंद को गोल में डाल दिया. पाकिस्तान ने इसके बाद 39वें मिनट में बढ़त बनाई, जब मोहम्मद इरफान जूनियर ने बाईं छोर से गोल दागते हुए टीम को 2-1 से आगे कर दिया.

भारत को मैच के 43वें मिनट में पहला पेनल्टी कॉर्नर मिला, जब गेंद पाकिस्तान के डिफेंडर के पैर में लगी. रूपिंदर ने दमदार ड्रैग फ्लिक पर गोल दागकर भारत को बराबरी दिलाई. भारत ने अगले ही मिनट में स्कोर 3-2 कर दिया, जब तलविंदर सिंह ने रमनदीप के पास पर गोल दागा. मैच के तीसरे क्वार्टर में चार गोल हुए, लेकिन अंतिम क्वार्टर में दोनों ही टीमें कोई गोल करने में नाकाम रही.