लखनऊ में अखिलेश व शिवपाल समर्थकों में मारपीट, मुलायम आज ले सकते हैं कड़ा फैसला

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए गए शिवपाल यादव के समर्थक सोमवार सुबह आपस में भिड़ गए. दोनों गुटों बीच जमकर मारपीट हुई है. समाजवादी पार्टी कार्यालय के बाहर शिवपाल के समर्थक नारेबाजी कर रहे थे, तभी अखिलेश समर्थकों के वहां पहुंचने के बाद स्थिति बिगड़ गई. इस बीच पुलिस बीच बचाव करने में जुट गई.

समाजवादी पार्टी में भले ही आधिकारिक तौर पर दो फाड़ नहीं हुए हैं, लेकिन समर्थकों के बीच तलवारें खिंच गई हैं. मुलायम सिंह के आगमन से पहले पार्टी दफ्तर के बाहर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व शिवपाल सिंह यादव के समर्थक आपस में भिड़ गए. दोनों खेमे से जमकर नारेबाजी हुई. बड़ी संख्या में पुलिसबल पार्टी दफ्तर के बाहर तैनात किया गया.

शिवपाल यादव के पार्टी दफ्तर के भीतर जाने के बाद अचानक सड़क पर घमासान होने लगा. दफ्तर के बाहर शिवपाल सिंह और अखिलेश यादव के समर्थक आमने-सामने आ गए. पुलिस से धक्का-मुक्की भी की गई.

इससे पहले शिवपाल सिंह यादव पार्टी कार्यालय पहुंचने से पहले मुलायम सिंह से मिलने पहुंचे थे. सपा कार्यालय के बाहर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं.

गौरतलब है कि सोमवार को पार्टी की अहम बैठक में सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव अहम फैसला ले सकते हैं. पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सदस्य अमर सिंह को पार्टी से बाहर करने के मामले में मुख्यमंत्री अखिलेश भी फिलहाल झुकने के मूड़ में नहीं हैं.

मुलायम ने सोमवार को लखनऊ में पार्टी सांसदों, विधायकों, पूर्व सांसदों व एमएलसी की बैठक बुलाई है. माना जा रहा है कि पार्टी टूट की कगार पर है और मुलायम अपने फैसले से सबको चौंका सकते हैं. पार्टी नेता-कार्यकर्ताओं का दफ्तर पहुंचने का सिलसिला सुबह से ही शुरू हो गया.