सामने आया टीचरों का बड़ा फर्जीवाड़ा, नकली डिग्री पर कर रहे थे नौकरी

उत्तराखंड में टीचरों का बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है. शिक्षा विभाग मामले की जांच कर रहा है. विभाग इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी में है. हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में 60 टीचरों के प्रमाण पत्र संदिग्ध मिले हैं. अस्थायी राजधानी देहरादून निवासी एक व्यक्ति ने सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत विभाग से कुछ टीचरों के प्रमाण पत्रों की सत्यापित प्रति की मांग की थी.

इन टीचरों के नामों की सूची के साथ विभाग से इनके प्रमाण पत्र मांगे गए थे, लेकिन बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से इन टीचरों के प्रमाण पत्र उपलब्ध नहीं कराए गए.

इस पर मामला सूचना आयोग पहुंचा तो सूचना आयोग ने इन टीचरों के शैक्षिक प्रमाण पत्रों की जांच के आदेश दिए. जिसके बाद विभाग की ओर से प्रदेश भर में टीचरों के शैक्षिक प्रमाण पत्रों की जांच की जा रही है.

जांच में हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में विभाग को कई टीचरों के बीटीसी एवं अन्य शैक्षिक प्रमाण पत्र फर्जी मिले हैं. विभागीय सूत्रों के मुताबिक हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में 60 टीचरों के प्रमाण पत्र फर्जी मिले हैं.