जवाहर लाल नेहरू ने अंबेडकर को लोकसभा में नहीं आने दिया : अजय टम्टा

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने पिथौरागढ़ विधानसभा क्षेत्र के अनुसूचित जाति स्वाभिमान सम्मेलन के जरिए दलित कार्ड खेला है. केंद्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा ने डॉ. भीमराव अंबेडकर की उपेक्षा को लेकर पंडित जवाहर लाल नेहरू पर निशाना साधा.

सम्मेलन में अजय टम्टा ने कहा कि संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर जैसा व्यक्ति न पैदा हुआ, न कभी होगा, लेकिन जवाहर लाल नेहरू ने डॉ. अंबेडकर को लोकसभा नहीं पहुंचने दिया. उन्हें चुनाव में हराया गया.

मंत्री ने कहा कि संसद में बाबा साहेब का फोटो तक नहीं था. मंत्री ने कांग्रेस पर अनुसूचित जाति के लोगों को दबाए रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि अनुसूचित जाति कभी भी कमजोर नहीं रही. उन्होंने कहा कि आज अनुसूचित वर्ग जागरुक हो रहा है और अपनी लड़ाई खुद लड़ रहा है.

पूर्व मंत्री प्रकाश पंत ने कहा भारत के संविधान में अनुसूचित जाति को कई अधिकार प्राप्त हैं. इन्हें लागू करने के लिए बीजेपी प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि बीजेपी अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति का विकास चाहती है.

पिथौरागढ़ में थल क्षेत्र के लोगों ने केंद्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा के सामने थल को विकासखंड का दर्जा देने की मांग उठाई. प्रमोद उपाध्याय के नेतृत्व में मंत्री से मिले लोगों ने कहा कि थल को तहसील का दर्जा मिल गया है, लेकिन थल तहसील बेरीनाग और डीडीहाट विकासखंड का हिस्सा है.

दो विकासखंडों में शामिल होने से इलाके के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है. थल को विकासखंड का दर्जा देकर लोगों की दिक्कतें कम करनी चाहिए. शिष्टमंडल में कैलाश मर्तोलिया, बसंत लोहनी, नवीन कुमार आदि शामिल थे.