बीजेपी में पहुंचकर बदले हरक सिंह रावत के सुर, बोले- विधानसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहता

उत्तराखंड वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत-फाइल फोटो

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव करीब हैं और कांग्रेस से बगावत करने के बाद बीजेपी में शामिल हुए वरिष्ठ नेता हरक सिंह रावत के सुर भी बदले-बदले से नजर आने लगे हैं. कभी कोटद्वार, तो कभी यमकेश्वर तो कभी डोईवाला विधानसभा से अपने चुनाव लड़ने की चर्चाओं को हवा देने के बाद अब हरक सिंह ने बीजेपी नेतृत्व से चुनाव न लड़ने की इच्छा जाहिर की है.

हरक सिंह रावत का कहना है कि मैं बहुत बार विधायक व मंत्री बन चुका हूं. अब मेरा चुनाव लड़ने का कोई इरादा नहीं है. उन्होंने बकायदा इसके लिए पार्टी कोर कमेटी से भी कह दिया है कि मुझे कार्यकता के रूप में काम करने की जिम्मेदारी दी जाए न कि चुनाव लड़ने की.

बीजेपी की ऋषिकेश मण्डल कार्यसमिति की बैठक में शिरकत करने पहुंचे डॉ. हरक सिंह रावत का कहना है कि पार्टी कार्यकता की हैसियत से काम करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, कार्यकर्ता के तौर पर पाटी चुनाव में जो भी जिम्मेदारी देगी मैं उसे निभाऊंगा.

हरक का कहना है कि जब नेता चुनाव लड़ते हैं तो ज्यादा ध्यान अपने चुनाव क्षेत्र पर देते हैं. अन्य क्षेत्रों पर ध्यान नहीं दे पाते. मैं अगर राज्यभर में पार्टी के लिए मेहनत करूं तो पार्टी को काफी फायदा मिल सकता है.