रुद्रप्रयाग : त्रिजुगीनारायण ट्रैक पर मिले नरकंकालों की जांच के लिए टीमें मौके पर

केदारनाथ-त्रिजुगीनारायण पैदल ट्रैक पर नरकंकाल बिखरे पड़े होने की खबरों के बीच पुलिस और राज्य आपदा रिस्पॉन्स फोर्स (एसडीआरएफ) की दो अलग-अलग टीमें रविवार को घटनास्थल पर पहुंचकर तथ्यों की जांच में जुट गई हैं.

रुद्रप्रयाग पुलिस अधीक्षक के कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, उत्तराखंड सरकार के निर्देश पर गई इन दोनों टीमों में विशेषज्ञ एसडीआरएफ के अलावा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं.

इन टीमों की अगुवाई राज्य पुलिस महानिरीक्षक, गढवाल, संजय गुंज्याल कर रहे हैं जबकि पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा भी इसमें शामिल हैं. पुलिस सूत्रों ने बताया कि इन दोनों टीमों के सोमवार तक लौटने की उम्मीद है.

दोनों टीमों को नरकंकालों का डीएनए लेने के बाद वहीं उनका विधिवत दाह संस्कार करने के निर्देश भी दिए गए हैं. गौरतलब है कि उत्तराखंड में आयी प्रलयंकारी प्राकृतिक आपदा को तीन साल से ज्यादा गुजर जाने के बाद केदारघाटी में घने जंगलों के बीच सुनसान इलाके में कुछ नर कंकाल बिखरे पड़े होने की सूचना मिलने से हडकंप मच गया था, जिसके बाद मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गुंज्याल को इसके बारे में जानकारी इकट्ठा करने की जिम्मेदारी सौंपी थी.