एक अरब से ज्यादा लोगों ने बनवाया ‘आधार’, बाकियों के लिए अब चलेगी ‘चुनौती अभियान’

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 100 प्रतिशत व्यस्कों की आधार संख्या सुनिश्चित करने के लिए ‘चुनौती अभियान’ शुरू किया है.

प्राधिकरण ने एक बयान में कहा कि यह अभियान 15 अक्टूबर से एक महीने तक चलेगा. अभी देशभर में 106.69 करोड़ आधार संख्याएं जारी की जा चुकी हैं.

इस ताजा अभियान का लक्ष्य इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में घटती-बढ़ती जनसंख्या या बचे हुए निवासियों को आधार से जोड़ना है. अभी आंकड़ों के हिसाब से व्यस्कों को पूर्ण रूप से आधार संख्या जारी किए जाने वाले राज्यों में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली और पंजाब शामिल हैं.

इस अभियान का लक्ष्य एक भी बचे व्यक्ति को आधार से जोड़ना है. प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय भूषण पांडे ने कहा कि यह देशभर के लोगों को आधार से पूरी तरह जोड़ने का हमारा एक प्रयास है.