किरीट सोमैया का आरोप, ‘शिवसेना कार्यकर्ताओं ने मेरी हत्या की कोशिश की’

बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने गुरुवार को एक स्थानीय नेता के नेतृत्व वाले शिवसेना कार्यकर्ताओं पर ‘‘साजिश के तहत’’ उनकी हत्या की कोशिश करने का आरोप लगाया. उन्होंने मुंबई पुलिस आयुक्त दत्ता पडसालगिकर से साजिशकर्ता का पर्दाफाश करने के लिए कहा.

उन्होंने कहा, ‘शिवसेना विभाग प्रमुख ने मंगलवार को मुझ पर तथा अन्य बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमले के लिए सार्वजनिक रूप से जिम्मेदारी ली हैय पुलिस आयुक्त को जांच करनी चाहिए कि मेरी हत्या की साजिश रचने का मुख्य साजिशकर्ता कौन था.’

सोमैया ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का नाम लिए बिना कहा, ‘दशहरा रैली में शिवसेना नेताओं ने बीएमसी चुनावों के लिए गठबंधन तोड़ने की सूरत में सर्जिकल स्ट्राइक की बात की. क्या उनका सर्जिकल स्ट्राइक से मतलब यह (मुझ पर हमले का प्रयास) था.’ यह हमला उपनगरीय मुलुंड में उस समय हुआ था, जब शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने सोमैया द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में अवरोध पैदा करने की कोशिश की थी. उस समारोह में दशहरे के अवसर पर ‘एमसीजीएम में भ्रष्टाचार माफिया’ का पुतला फूंका जाना था.

शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने इस पुतले को फूंके जाने का विरोध करते हुए कार्यक्रम को रोकने की कोशिश की क्योंकि बृहन्न मुंबई महानगर पालिका (एमसीजीएम) में वे सत्ता में हैं. हालांकि पुलिस ने हस्तक्षेप करते हुए स्थिति को नियंत्रण में किया.

सोमैया ने गुरुवार को पुलिस आयुक्त को पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि उन पर हमला करने के लिए मौके पर ‘वाहनों में सौ से अधिक लोग’ इंतजार कर रहे थे.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘रावण दहन के बाद ज्यादातर बीजेपी कार्यकर्ता स्थल से जा चुके थे और जब मैं अपनी कार में बैठने गया तो वे हथियार लेकर मेरी तरफ आए.’