अब बाजार में नजर आएगी उत्तराखंड की हर्बल चाय

उत्तराखंड चाय विकास बोर्ड अब बाबा रामदेव के पतांजलि प्रतिष्ठानो की तर्ज पर बाजार में चाय उतारने जा रहा है. इसका मकसद उत्तराखंड की स्पेशल चाय को आम लोगों तक पहुंचाने का है.

बाबा रामदेव के नगर, कस्बों में स्थापित पतंजलि प्रतिष्ठानों की तर्ज पर उत्तराखंड चाय विकास बोर्ड ने भी प्रत्येक क्षेत्र में अपने डीलरों को स्थापित करने का निर्णय किया है. इसका उद्देश्य उत्तराखंड की चाय को आम लोगों तक पहुंचाना है.
चाय विकास बोर्ड के वित्त अधिकारी अनिल खोलिया के अनुसार शीघ्र ही डीलरों को नियुक्त किया जाएगा. साथ ही चाय बिक्री पर उनका कमीशन तय होगा. उन्होंने कहा कि बाजार में उत्तराखंड चाय का प्रचार प्रसार का जिम्मा विभाग का होगा.

उन्होंने बताया कि चाय को रिटेल में बेचने से जहां विभाग को मुनाफा होगा, वहीं उत्तराखंड की स्वादिष्ट चाय आम लोगों तक पहुंच सकेगी. इस वक्त उत्तराखंड कि चाय विभिन्न ब्रांडो में 1200, 600 तथा 400 रुपये प्रति किलो के हिसाब से उपलब्ध है.

उन्होंने बताया कि शुरूआती चरण में बोर्ड हल्द्वानी, नैनीताल, अल्मोड़ा, रानीखेत, पिथौरागढ़, चंपावत, देहरादून आदि शहरों से चाय को बाजार में उतारेगा. उसके बाद दिल्ली मुंबई कोलकाता आदि शहर महानगरों में भी उत्तराखंड चाय रिटेल में उतारने की योजना है.