सीमांत क्षेत्रों में व्यापार में बाधा डालते हैं केंद्रीय सुरक्षा बल, हरदा ने राजनाथ को लिखी चिट्ठी

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से कैलाश मानसरोवर यात्रा मार्ग पर भारतीय व्यापारियों के आवागमन में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) तथा अन्य केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों द्वारा बाधा डाले जाने का जिक्र किया. उन्होंने इसके निस्तारण के लिए सुरक्षा बलों को आवश्यक निर्देश जारी करने को कहा.

मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री को लिखे एक पत्र में रावत ने कैलाश मानसरोवर यात्रा मार्ग पर भारतीय व्यापारियों के आवागमन तथा व्यापारियों को आ रही कठिनाईयों की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए कहा कि पिथौरागढ़ जिले में पूरनपुर मण्डी में व्यापारियों के आवागमन में सुरक्षा बलों द्वारा अनावश्यक कुछ बाधाएं डाली जा रही हैं.

इस संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि कैलाश मानसरोवर यात्रा मार्ग पर भारतीय व्यापारी सदियों से अपना व्यापार करते आ रहे हैं, लेकिन उनके व्यापार में बाधा डालना और सीमान्त क्षेत्रों के लोगों की आजीविका व आवश्यक वस्तुओं के आवागमन पर रोक लगाया जाना उचित नहीं है.

मुख्यमंत्री ने केंद्रीय गृहमंत्री से आग्रह किया है कि वह अपने स्तर से बीएसएफ तथा अन्य केन्द्रीय एजेंसियों को भारतीय व्यापारियों के सदियों से जारी आवागमन व व्यापार को अविरल रूप से चलाए जाने के लिए आवश्यक निर्देश जारी करें.

चिट्ठी में हरीश रावत ने इस व्यापार के जारी रहने को सीमान्त क्षेत्रों की आजीविका की सुरक्षा के लिए भी आवश्यक बताया है.