उत्तराखंड पहला ऐसा राज्य जहां किसान आयोग का गठन होगा : मुख्यमंत्री हरीश रावत

मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि उत्तराखंड देश का पहला ऐसा राज्य बनेगा, जिसमें किसान आयोग का गठन होगा. उन्होंने राज्य में जल्द आयोग गठित करने का ऐलान किया है. साथ ही उन्होने पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय राजेश पायलट के नाम से बनने वाले स्टेडियम के लिए 25 लाख रुपये की पहली किश्त भी जारी की.

रविवार को खानपुर गांव में पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय राजेश पायलट के नाम से स्टेडियम के शिलान्यास एवं उनकी मूर्ति का अनावरण करने पहुंचे मुख्यमंत्री ने कहा कि राजेश पायलट किसानों के मसीहा थे. जीवनभर उन्होंने किसानों के लिए लड़ाई लड़ी है. लेकिन आज किसान राष्ट्रीय स्तर पर हाशिए पर हैं.

उन्होंने कहा, पायलट ने उत्तराखंड राज्य आंदोलन के दौरान पहाड़ों में जा-जाकर आंदोलनकारियों का हौसला बढ़ाया था. इसलिए राज्य को राजेश पायलट का ऋण चुकाना है. स्टेडियम बनने से क्षेत्र के बच्चों को अपनी प्रतिभा निखारने का अवसर मिलेगा.

हरीश रावत ने कहा, यदि वह अगले साल फिर मुख्यमंत्री बने तो स्टेडियम में राष्ट्रीय स्तर की वॉलीबॉल प्रतियोगिता कराई जाएगी. इस दौरान उन्होंने स्टेडियम निर्माण के लिए स्वीकृत 25 करोड़ रुपये में से पहली किश्त के रूप में 25 लाख रुपये जारी करने की घोषणा की.

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं खानपुर से टिकट के दावेदार पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष चौधरी राजेंद्र सिंह एवं कृष्णपाल मुखिया न स्वयं आए और न उनके समर्थक भी दिखाई दिए. बताया जा रहा है कि डॉ. संजय चौधरी को मुख्यमंत्री को बतौर प्रत्याशी पेश किए जाने के कारण अन्य दोनों नेताओं ने कन्नी काट ली.