इंदौर टेस्ट : भारत ने 557 रनों पर घोषित की पारी

कप्तान विराट कोहली (211) और उपकप्तान अंजिक्य रहाणे (188) की दमदार शतकीय पारियों की बदौलत भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ जारी तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन रविवार को पांच विकेट के नुकसान पर 557 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी. कोहली और रहाणे की नायाब पारियों के बाद रोहित शर्मा (नाबाद 51) और रवींद्र जडेजा (17) ने तेज हाथ दिखाते हुए 5.38 की रन गति से 53 रन जोड़े.

रोहित ने 63 गेंदों की छोटी सी पारी में तीन चौके और दो छक्के जड़े.

इससे पहले, कोहली और रहाणे ने चौथे विकेट के लिए 365 रनों की साझेदारी कर भारत को मजबूत स्कोर प्रदान किया. दोनों बल्लेबाजों के बीच हुई यह साझेदारी भारत की ओर से किसी भी विकेट के लिए पांचवीं सबसे बड़ी साझेदारी है.

कोहली भारत के ऐसे पहले कप्तान भी बन गए जिन्होंने टेस्ट मैच में दो-दो दोहरा शतक लगाने का कारनामा किया. कोहली ने इसी वर्ष वेस्टइंडीज दौरे पर पहला दोहरा शतक लगाया था.

मैच के पहले दिन मुरली विजय (10), गौतम गंभीर (29) और चेतेश्वर पुजारा (41) के विकेट गंवाने के बाद दोनों बल्लेबाजों ने तीन सत्रों तक किवी गेंदबाजों को छकाए रखा.

भारतीय पारी में ऐसा दूसरी बार हुआ है, जब चौथे और पांचवें नम्बर के बल्लेबाजों ने 150 से ज्यादा स्कोर किया हो. इससे पहले सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण यह कारनामा कर चुके हैं.

कोहली जीतन पटेल की गेंद पर पगबाधा करार दिए गए. कोहली ने 366 गेंदों की अपनी ‘विराट’ पारी में 20 चौके लगाए.

कोहली के बाद करियर की सबसे बड़ी पारी खेल रहे रहाणे भी दोहरे शतक की ओर बढ़ते लग रहे थे, लेकिन 504 के कुल योग पर ट्रेंट बोउल्ट ने उन्हें विकेट के पीछे कैच आउट करवा दिया.

रहाणे ने 381 गेंदों का सामना किया, जिसमें 18 चौके और चार छक्के जड़े. किवी टीम के लिए बोल्ट और जीतन पटेल को दो-दो विकेट मिले. मिशेल सैंटनर को एक विकेट मिला. भारत पहले ही तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर चुका है.