लैंसडौन : चार लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुआ सेना का क्लर्क

अस्थायी राजधानी देहरादून की सीबीआई टीम ने लैंसडौन गढ़वाल राइफल्स में कार्यरत एक सिविल क्लर्क को चार लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार सिविल क्लर्क सेना के लैंसडौन स्थित क्यू विभाग में सिविलियन कर्मचारी है.

सूत्रों के मुताबिक सेना के सिविलियन विभाग में लुहार के पद पर कार्यरत मोहन सिंह ने सिविल क्लर्क प्रताप सिंह पर उसका एरियर दिलाने के लिए चार लाख रुपये मांगने का आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत देहरादून सीबीआई अफसरों से की थी.

गुरुवार को लैंसडौन पहुंचकर सीबीआई टीम ने सुनियोजित रणनीति के तहत शिकायतकर्ता और आरोपी को गांधी चौक पर बुलाया और सिविल क्लर्क प्रताप सिंह को चार लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया.

पूछताछ में आरोपी ने अपना अपराध कबूल कर लिया. शिकायतकर्ता ने सीबीआई को बताया कि इसी साल दिसंबर में उसका रिटायरमेंट है. प्रताप सिंह उसके एरियर की राशि को हड़पने के लिए उस पर दबाव बना रहा था. टीम में सीबीआई के डीएसपी अनिल चंदोला, आईएमएस नेगी और इंस्पेक्टर आरपी शर्मा व सुमित शामिल थे.