उत्तराखंड की इस झील को विश्व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जायेगा…

उत्तराखंड….टिहरी झील को विश्व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए सऊदी अरब की एक निजी कंपनी आगे आई है. कंपनी यहां 15 हजार करोड़ का पूंजी निवेश करने जा रही है.

योजना को मूर्तरूप देने के लिए राज्य सरकार और सऊदी अरब की कंपनी के बीच कई दौर की वार्ता हो चुकी है. इसी माह कंपनी और सरकार के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर होने की पूरी संभावना है.

पर्यटन मंत्री दिनेश धनै ने बताया कि टिहरी झील को विश्व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए सरकार के साथ ही देश-विदेश की नामीगिरामी कंपनियों ने पहल की है.

सऊदी अरब की इस ‌निजी कंपनी ने पेशकश की है कि वह टिहरी झील और शहर के विकास के लिए 15 हजार करोड़ रुपये का निवेश करना चाहती है.

कंपनी के आला अफसर दो बार टिहरी का दौरा भी कर चुके हैं. पर्यटन मंत्री के मुताबिक कंपनी टिहरी में पांच सितारा होटल, टूरिस्ट लॉज, एडवेंचर स्पोर्ट्स सेंटर के अलावा कई किमी क्षेत्रफल में फैली झील के किनारे दर्शनीय स्थलों का निर्माण करेगी.

जिससे टिहरी को न सिर्फ विश्व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जा सकेगा, बल्कि राज्य की वित्तीय स्थिति को मजबूती मिलेगी और स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर खुलेंगे.

बता दें कि टिहरी को एडवेंचर टूरिस्ट सेंटर के रूप में विकसित करने के लिए राज्य सरकार और पर्यटन विभाग कई योजनाएं संचालित कर रहा है. टिहरी में देश विदेश के निवेशक पूंजी निवेश करें, इसके लिए पिछले साल सरकार और आला अफसरों ने निवेशकों के साथ उच्च स्तरीय बैठक की थी.

पर्यटन विभाग की ओर से साहसिक खेलों का भी आयोजन किया गया था. लेकिन उस समय निवेशकों ने निवेश करने में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखाई.