स्पेक्ट्रम नीलामी : 63,500 करोड़ रुपये की बोलियां, टेलिकॉम कंपनियों की 2जी में कोई रुचि नहीं

मौजूदा स्पेक्ट्रम नीलामी के तहत लगाई गई बोलियों की राशि बुधवार को चौथे दिन की समाप्ति पर कुल मिलाकर 63,500 करोड़ रुपये हो गई. हालांकि नीलामी के लिए पेश किए गए कुल स्पेक्ट्रम में से 60 प्रतिशत की बिक्री नहीं हुई है और चौथे दिन भी 700 व 900 मेगाहर्ट्ज बैंडों की खरीद के लिए कोई सामने नहीं आया.

चौथे दिन की समाप्ति पर सरकार द्वारा पेश कुल 2,354.55 मेगाहर्ट्ज के 40 प्रतिशत के लिए ही बोलियां लगाई गईं. आधिकारिक सूत्रों ने कहा, ’23वें दौर की समाप्ति पर अब तक 956.8 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के लिए लगभग 63,500 करोड़ रुपये मूल्य की बोलियां आई हैं. कुल मिलाकर 2354.55 मेगाहर्ट्ज की पेशकश की गई है.’

सूत्रों ने बताया कि गुरुवार सुबह 10 बजे नीलामी फिर से शुरू होगी और बोलियों के हर दौर का समय 60 मिनट से कम करके 45 मिनट कर दिया जाएगा.

सूत्रों ने कहा कि 700 मेगाहर्ट्ज व 900 मेगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी बैंड में कोई मांग सामने नहीं आ रही है और कंपनियां 1800 मेगाहर्ट्ज व 2300 मेगाहर्ट्ज में ही रुचि दिखा रही हैं.