उत्तराखंड प्रीमियर लीग-2: चंपावत वॉरियर्स को हराकर टिहरी टाइटंस ने जीता खिताब

टिहरी टाइटंस ने पहले क्वालीफायर में मिली हार का हिसाब चुकता करते हुए चंपावत वॉरियर्स को 67 रन से हराकर उत्तराखंड प्रीमियर लीग सीजन-2 पर कब्जा कर दिया. चमोली पैंथर्स के शिवम सैनी को प्लेयर ऑफ द उत्तराखंड चुना गया.

अस्थायी राजधानी देहरादून के रेंजर्स ग्राउंड में टिहरी टाइटंस व चंपावत वॉरियर्स के बीच खिताबी भिड़ंत हुई. चंपावत वॉरियर्स ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया. बल्लेबाजी करने उतरी टिहरी टाइटंस के सलामी बल्लेबाज ऋषि धवन बिना खाता खोले हुए पवेलियन लौट गए. वह देवेंद्र बोरा की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए. नीरज सैनी (09) भी लंबी पारी नहीं खेल सके.

वैभव पंवार व राहुल यादव ने टीम को संभाला. दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 69 रन जोड़े. वैभव पंवार ने शानदार अर्द्धशतक (63 रन) लगाया. टिहरी टाइटंस की पारी का मुख्य आकर्षण योगेश नागर व विशाल डंगवाल की बल्लेबाजी रही. विशाल डंगवाल ने 21 गेंदों पर 50 रन बनाए और योगेश नागर भी 48 रन बनाकर नाबाद लौटे.

अंतिम ओवर में टिहरी टाइटंस ने योगेश के चार छक्कों की मदद से 30 रन बटोरे. टिहरी टाइटंस ने निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट खोकर 210 रन बनाए. चंपावत के लिए शाहबाज अहमद व देवेंद्र बोरा ने दो-दो विकेट चटकाए.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी चंपावत वॉरियर्स की टीम शुरुआत में ही लड़खड़ा गई. शाहबाज अहमद (32) व शारुल कंवर (33) ने तेजी से रन बटोरे, लेकिन अन्य बल्लेबाज क्रीज पर टिक नहीं सके.

चंपावत वॉरियर्स की टीम निर्धारित ओवर में आठ विकेट खोकर 143 रन ही बना सकी. टिहरी टाइटंस के लिए आशीष कुमार व सुनील बिष्ट ने दो-दो, ऋषि धवन, पवन नेगी व वैभव पंवार ने एक-एक विकेट झटका. विजय शर्मा व एस सिंह ने अंपायर की भूमिका निभाई.

समापन पर मुख्य अतिथि देहरादून के महापौर विनोद चमोली ने विजेता-उपविजेता टीमों को क्रमश: छह व चार लाख रुपये का नगद पुरस्कार व ट्रॉफी भेंट की.