स्पेक्ट्रम नीलामी के पहले दिन लगी बंपर बोलियां, 53,531 करोड़ रुपये की बोलियां आईं

देश की अब तक की सबसे बड़ी स्पेक्ट्रम नीलामी की धमाकेदार शुरुआत शनिवार को हुई, जिसमें पहले दिन 53,531 करोड़ रुपये मूल्य की बोलियां प्राप्त हुईं. दूरसंचार कंपनियों ने प्रीमियम बैंड 700 मेगाहर्ट्ज और 900 मेगाहर्ट्ज को छोड़कर सभी फ्रिक्वेंसी बैंडों में रुचि दिखाई.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि शनिवार को स्पेक्ट्रम की नीलामी में बोली के पांचवे दौर के अंत तक कुल करीब 53,531 करोड़ रुपये की बोलियां प्राप्त हुईं. स्पेक्ट्रम की नीलामी सोमवार को दोबारा शुरू होगी.

शनिवार को आयोजित पांच दौर में ऑपरेटरों ने सबसे अधिक रुचि 1800 मेगाहर्ट्ज के स्पेक्ट्रम बैंड में दिखाई. इस बैंड का इस्तेमाल 2जी-4जी सेवाएं देने के लिए किया जा सकता है. इसके बाद ऑपरेटरों की रुचि 2100 मेगाहर्ट्ज (3जी-4जी) बैंड, 2500 मेगाहर्ट्ज (4जी) बैंड, 2300 मेगाहर्ट्ज (4जी) और 800 मेगाहर्ट्ज (2जी-4जी) बैंड में रही.

पहले दिन की बोली समाप्त होने के बाद दूरसंचार विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, सबसे अधिक हरकत 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड में देखी गई, जिसमें 22 में से 19 दूरसंचार सर्कलों में बोलियां लगाई गईं. इन सर्कलों में दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, गुजरात और यूपी (पूर्व एवं पश्चिम) शामिल हैं.

भारती एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया सेलुलर और रिलायंस जियो सहित कंपनियां उपभोक्ताओं को उच्च गुणवत्ता एवं अगली पीढ़ी की मोबाइल सेवाएं उपलब्ध कराने में प्रतिस्पर्धी रूप से आगे बने रहने के लिए स्पेक्ट्रम हासिल करने की दौड़ में हैं.