समान आकांक्षाओं, चुनौतियों व अवसरों का सामना कर रहे भारत-चीन, एक-दूसरे से प्रेरणा लें : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि भारत तथा चीन एक-दूसरे से सीख और प्रेरणा ले सकते हैं, क्योंकि दोनों देशों के समक्ष आकांक्षाएं, चुनौतियां व अवसर समान हैं. चीन के राष्ट्रीय दिवस पर वहां के देशवासियों को बधाई देते हुए मोदी ने एक संदेश में कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध सदियों पुराने हैं और दोनों एक-दूसरे की सभ्यताओं का आदर करते हैं.

मोदी ने कहा कि “जैसा मैंने पहले कहा कि दोनों देशों की आकांक्षाएं, चुनौतियां व अवसर समान हैं और एक-दूसरे की सफलता से दोनों सीख ले सकते हैं.” प्रधानमंत्री ने कहा, “ऐसे वक्त में जब दुनिया एशिया की ओर देखती है और चीन व भारत की प्रगति व समृद्धि तथा हमारे घनिष्ठ सहयोग में एशिया को शांतिपूर्ण व स्थिर रखने की क्षमता है.” मोदी ने कहा कि इस दृष्टिकोण को उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग तथा प्रधानमंत्री ली केकियांग के साथ साझा किया है.

उन्होंने कहा, “हाल के दिनों में हमने अपने संबंधों को प्रगाढ़ किया है, परस्पर विश्वास तथा आत्मविश्वास को गहरा करने तथा दोनों देशों के लोगों के बीच संबंधों को बढ़ावा देने पर जोर दिया है. और इस दिशा में हम अपना प्रयास जारी रखेंगे.”