PoK में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद उत्तराखंड की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर मोदी सरकार की तीखी नजर

उत्तराखंड से लगी चीन, नेपाल और तिब्बत की सीमाओं पर मजबूत तंत्र स्थापित करने के मकसद से केंद्रीय गृह मंत्रालय के सीमा प्रबंधन विभाग के सचिव सुशील कुमार शुक्रवार को अस्थायी राजधानी देहरादून पहुंचे.

वह दो अक्टूबर तक सीमाओं का आंकलन करने के साथ ही यहां इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के लिए मुख्य सचिव शत्रुघ्न सिंह से भी मिलेंगे. पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) पर हुए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देशभर में अलर्ट है.

इस बीच शुक्रवार को गृह मंत्रालय के सीमा प्रबंधन विभाग के सचिव सुशील कुमार देहरादून पहुंचे. शनिवार को वह देहरादून से केदारनाथ होते हुए गौचर भी जाएंगे. यहां 8वीं बटालियन हेडक्वार्टर में बैठक लेंगे. इसके बाद सुशील कुमार चीन सीमा से सटे गांव माणा जाएंगे. यहां माणा पोस्ट पर वह भ्रमण करेंगे.

इसके बाद वह शाम को मुख्य सचिव शत्रुघ्न सिंह और राज्य सरकार के अन्य अधिकारियों से बातचीत करेंगे. रात को फिर देहरादून में ही रहेंगे. दो अक्टूबर को सुशील कुमार रिमखिम पोस्ट जाएंगे, जहां वह जवानों से बात करेंगे. इसके बाद जोशीमठ जाएंगे.

जोशीमठ से वह आईटीबीपी के सीमाद्वार स्थित परिसर आएंगे और शाम को दिल्ली लौट जाएंगे. उनकी इस विजिट को अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर बढ़े तनाव से जोड़कर देखा जा रहा है. उत्तराखंड में चीन सीमा पर अभी काफी काम बचा है. उम्मीद जताई जा रही है कि इसके बाद उसी के मुताबिक केंद्र सरकार अपनी सीमाओं पर और मजबूत पहरेदारी कर सकेगी.