PoK में सर्जिकल स्ट्राइक को संत समाज ने भी सराहा, आर्मी और पीएम मोदी की जमकर तारीफ

भारतीय सेना ने बुधवार देर रात पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देकर कई आतंकवादी ठिकानों को न सिर्फ ध्वस्त किया बल्कि दर्जनों की संख्या में आतंकवादियों को भी मौत के घाट उतार दिया. सेना की इस कार्रवाई को संत समाज ने ठोस, सख्त और कार्रवाई को अंजाम देने वाला उचित कदम बताया है.

योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा कि भारत पर लगातार हो रहे आतंकी हमलों के जवाब में यह कार्रवाई बहुत जरूरी थी. यह सख्त, ठोस और भारत के हित के लिए उचित कार्रवाई है. उन्होंने कहा, इससे कश्मीर में अलगाववादियों को भी संदेश चला गया है.

शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पांड्या ने कहा कि भारत का यह कदम उचित और सराहनीय है. उरी हमले के बाद लोग प्रधानमंत्री और केंद्र सरकार पर सवाल उठाए जाने लगे थे, लेकिन यह कार्रवाई इसका जवाब है. सेना ने पाकिस्तान पर नहीं बल्कि आतंकवादियों पर कार्रवाई की है. उम्मीद है कि भारतीय सेना आतंकियों के खिलाफ आगे भी ऐसी कार्रवाई करेगी.

भारत माता मंदिर के संस्थापक स्वामी सत्यमित्रानंद ने कहा कि केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री का कदम सराहनीय है और सेना की इस कार्रवाई के लिए बधाई. सरकार ने सही समय पर आतंकवादियों व पाकिस्तान को सही जवाब दिया है. इससे भारत के नागरिकों का प्रधानमंत्री व केंद्र सरकार पर विश्वास बढ़ा है.

पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि भारत पर हो रहे आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के प्रति हम सभी सवेदना व्यक्त करते हैं. पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए उस पर पलटवार करना जरूरी था.

श्रीदशनाम जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि महाराज ने कहा कि भारत सहयोग करने वालों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर हर समय खड़ा है, लेकिन पीठ पीछे से वार करने वालों के खिलाफ भारत हमेशा से ही सख्त रुख अपनाता आया है. पाकिस्तान को सबक सिखाना आवश्यक था.

श्रीमज्जदगुरु रामानंदाचार्य स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी धैर्यवान व्यक्ति हैं, वह कभी भी जल्दबाजी में कोई कदम नहीं उठाते. भारत में हुए आतंकी हमले के शहीदों का बदला भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देकर लिया, यह सराहनीय कदम है.

श्री दक्षिण काली मंदिर पीठाधीश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि भारतीय सेना का यह कदम सराहनीय और प्रशंसनीय है. पाकिस्तान को सबक सिखाने का समय आ गया है. कार्रवाई ने स्पष्ट संकेत दिया है कि हम भारतीय समय आने पर ईंट का जवाब पत्थर से देना जानते हैं.

श्रीजगतगुरु आश्रम पीठाधीश्वर स्वामी राजराजेश्वराश्रम महाराज ने कहा कि आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की शहादत को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा. पाक को सबक सिखाना जरूरी है. इस तरह भारतीय सेना ने सूझबूझ के साथ जो कदम उठाया वह सही है.

भूमा पीठाधीश्वर स्वामी अच्युतानंद तीर्थ महाराज ने कहा कि भारतीय सेना के इस जज्बे पर हर हिंदुस्तान को गर्व महसूस होगा. भारत ने हमेशा धैर्य से काम लिया है. इसलिए पाकिस्तान को भारत के धैर्य की परीक्षा नहीं लेनी चाहिए. प्रधानमंत्री को बधाई, शुभकामनाएं.

चेतन ज्योति आश्रम के परमाध्यक्ष महंत ऋषिश्वरानंद ने कहा कि पूरे विश्व में शांति व्यवस्था कायम रहे यही हम चाहते हैं, लेकिन इस तरह आतंकी हमले करके पाक भारत में दहशत पैदा करना चाहता है. इस मंसूबे में पाकिस्तान कभी भी कामयाब नहीं होगा.