अमेरिका को पहले से थी PoK में सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी, व्हाइट हाउस ने पाकिस्तान को लताड़ा

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में बुधवार रात भारतीय सेना के सर्जिकल ऑपरेशन के बाद अमेरिका ने भी पाकिस्तान को जमकर लताड़ लगाई है. ओबामा प्रशासन ने भारत-पाकिस्तान के बीच सरहद पर बढ़ते तनाव को लेकर कहा कि पाकिस्तान को अपनी जमीन को आतंकियों के लिए ‘सुरक्षित स्थान’ नहीं बनने देना चाहिए. पाकिस्तान को आतंकवाद के मसले पर अपने पड़ोसी देश की मदद करनी चाहिए. बताया जा रहा है कि भारत ने अमेरिका को लूप में लेकर पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक किया था.

पीओके में सर्जिकल ऑपरेशन के बाद अमेरिका में व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जॉश अर्नेस्ट ने बताया, ‘वॉशिंगटन को सर्जिकल ऑपरेशन के बाद दिनभर के अपडेट की जानकारी थी, लेकिन हम चाहते हैं कि भारत के इस एक्शन के बाद दोनों पक्षों की सेना में बातचीत हो.’ उन्होंने कहा कि दोनों तरफ से तनाव दूर करने के लिए पहल जरूरी है.

‘इकोनॉमिक टाइम्स’ की खबर के अनुसार, सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में अमेरिका को पहले से जानकारी थी. गुरुवार को डीजीएमओ की प्रेस कॉन्फ्रेंस के काफी पहले अमेरिकी एनएसए सुजैन राइस ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भारत के एनएसए अजीत डोभाल को फोन किया था. डोभाल ने उन्हें सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी जानकारी दी थी. दूसरे मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी बताया जा रहा है कि सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में अमेरिका को काफी पहले से ही जानकारी थी.

अमेरिका सहित अन्य देशों ने पीओके में भारत के सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन किया है. अमेरिका का कहना है, ‘यूनाइटेड स्टेट सीमा पार आतंकवाद के खतरों को लेकर चिंतित है. हम उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तान यूएन की ओर से आतंकवादी संगठन घोषित किए गए समूहों को समर्थन नहीं करेगा और अपने देश में पनपने नहीं देगा.’ व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जॉश अर्नेस्ट ने बताया कि अमेरिका भारत के साथ अपने समझौते को लेकर संकल्पबद्ध है. दोनों देश मिलकर आतंकवाद से लड़ेंगे.

भारत की तरफ से बुधवार रात 12.30 बजे से 4.30 बजे तक यह ऑपरेशन चलाया गया. भारतीय सेना के कमांडोज ने आतंकवादियों के 7 लॉन्च पैड को अपना निशाना बनाया. इसमें 35-40 आतंकवादी मारे गए. भारत की ओर से हमला होने के बाद कई पाकिस्तानी सैनिक लॉन्च पैड की सुरक्षा में जुट गए थे. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार भारतीय सेना की कार्रवाई में 9 पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए हैं. हालांकि पाकिस्तान ने 2 सैनिकों के मारे जाने की पुष्टि की है.